आत्मनिर्भर भारत योजना:प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना, मांगे ऑनलाइन आवेदन

आबूरोड9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आत्मनिर्भर भारत योजना में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय एवं कृषि उपज मंडी के तत्वावधान में सूक्ष्म खाद्य उद्यमों के उन्नयन के लिए वित्तीय, तकनीकी एवं कारोबार सहायता देने के लिए अखिल भारतीय आधार पर प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना शुरु की गई है। कृषि उपज मंडी समिति सचिव रजनीश कुमार सिंह के अनुसार स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए 35 प्रतिशत तक सब्सिडी के साथ योजना संचालित की जा रही है। आवेदक न्यूनतम 10 प्रतिशत योगदान के साथ आवेदन कर सकता है। एफपीओ, स्वयं सहायता समूहों व उत्पादक सहकारिताओं को प्राथमिकता मिलेगी। वर्किंग कैपिटल तथा छोटे औजारों की खरीद के लिए खाद्य प्रसंस्करण में कार्यरत स्वयं सहायता समूहों के प्रत्येक सदस्य को 40 हजार रुपए दर से प्रारंभिक पूंजी एसएचजी फेडरेशन स्तर पर होगी । एफपीओ, एसएचजी, सहकारिताओं, राज्य के स्वामित्व वाली एंजेसियों और निजी उद्यमियों को सामान्य प्रसंस्करण सुविधा, प्रयोगशाला, गोदाम, कोल्ड स्टोरेज, पैकिंग और इन्क्यूबेशन केन्द्र समेत इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए 35 प्रतिशत की दर से क्रेडिट-लिंक्ड अनुदान उपलब्ध कराया जाएगा। ब्रांडिग और बिक्री सहायता कुल व्यय की 50 प्रतिशत तक सीमित रहेगी। योजना के बारे में जानकारी के लिए खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय की वेबसाइट पर प्राप्त की जा सकती है।

खबरें और भी हैं...