मानसून की अच्छी बारिश से मौसम में ठंडक:माउंट आबू में इस बार हुई 1089 MM बारिश, सुबह-शाम दिखने लगा हल्की ठंड का असर, बड़ी संख्या में पहुंच रहे पर्यटक

माउंट आबू20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
माउंट में आसमान में छाए बादलों के बीच दिखता सूरज। - Dainik Bhaskar
माउंट में आसमान में छाए बादलों के बीच दिखता सूरज।

प्रदेश के एक मात्र हिल स्टेशन माउंट आबू में मानसून में हुई अच्छी बारिश से मौसम में ठंडक बनी हुई है। अच्छी बारिश के बाद चारों और हरी-भरी वादियां दिखाई दे रही है। यहां सवेरे 7:30 बजे तक हल्की धुंध नजर आती है। इसके बाद धूप निकलने पर मौसम साफ हो जाता है। इस बीच यहां सुहावने मौसम का मजा लेने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक भी पहुंच रहे हैं। जो हरी-भरी वादियों, पहाड़ियों और नक्की लेक के साथ ही प्रमुख पर्यटन स्थलों की सैर कर रहे हैं।

माउंट आबू की वादियों में छाई हरियाली।
माउंट आबू की वादियों में छाई हरियाली।

शहर में बारिश के बाद अलग-अलग जगह प्राकृतिक झरने बह रहे हैं। टूरिस्ट इन झरनों का आनंद भी ले रहे हैं। माउंट आबू में इस बार अब तक कुल 1089 एमएम बारिश हुई थी, जिससे मौसम में ठंडक बनी हुई है। शहर में सवेरे और शाम को हल्की ठंड का असर दिखाई देने लगा है। शहर में गुरुवार को अधिकतम तापमान 27.8 और न्यूनतम तापमान 15.5 दर्ज किया है।

नक्की लेक में बोटिंग का मजा लेते हुए पर्यटक।
नक्की लेक में बोटिंग का मजा लेते हुए पर्यटक।

माउंट आबू में हर साल करीब दो लाख सैलानी आते हैं और पर्यटन स्थलों की सैर करते हैं। माउंट आबू में सबसे ज्यादा टूरिस्ट गुजरात के आणंद, राजकोट, अहमदाबाद, पालनपुर से आते हैं। इसके अलावा दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, जोधपुर, हरियाणा से भी बड़ी संख्या में सैलानी आते हैं। माउंट आबू में सबसे अधिक पर्यटन शहर के गुरु शिखर, देलवाड़ा मंदिर, अचलगढ़, पीस पार्क, सनसेट पॉइंट, अधर देवी मंदिर और नक्की लेक पर रहता है। इसके अलावा नक्की लेक पर सेल्फी पॉइंट और 102 फीट की ऊंचाई पर लहराता तिरंगा केंद्र बिंदु है। शहर में मानसून, दीपावली, क्रिसमस के अलावा मई-जून महीने में टूरिस्ट की सबसे अधिक भीड़ दिखाई देती है।

जंगल में पत्थरों के बीच से बहता पानी।
जंगल में पत्थरों के बीच से बहता पानी।

बता दें कि 2016 से 2019 में टूरिस्ट का आंकड़ा देखा जाए तो 2016-2017 में 29,384 गाड़ियों से टूरिस्ट माउंट आए थे और पालिका को 37 लाख 99 हजार 450 रुपए की आय हुई थी। 2017-2018 में 42,001 गाड़ियों से टूरिस्ट माउंट आबू आए थे और पालिका को 50 लाख 53 हजार 400 रुपए की आय हुई थी। 2018-2019 के आंकड़े के अनुसार 35,352 गाड़ियों से टूरिस्ट माउंट आए थे, जिससे पालिका को 46 लाख 64 हजार 620 रुपए की आय हुई थी।

खबरें और भी हैं...