जिला एवं सेशन न्यायाधीश का फैसला:गांजा तस्करी के दोषी 2 तस्करों को 2 वर्ष का कठोर कारावास

पाली।4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

तस्करी के एक मामले की सुनवाई करते हुए जिला एवं सेशन न्यायाधीश एमआर सुथार ने दो अभियुक्तों को दोषी करार देते हुए दो वर्ष के कठोर करावास व पांच हजार जुर्माने से दंडित किया। जुर्माना राशि अदा नहीं करने पर 6 माह के अतिरिक्त कारावास की सजा सुनाई।

जिला लोक अभियोजक डॉ चंद्रभानु राजपुरोहित ने बताया कि 24 अप्रेल 2006 को कोतवाली पुलिस ने नया बस स्टैंड से तीन जनों के कब्जे से अवैध गांजा बरामद किया था। जिस पर उन्हें गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया7 जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया। मामले में सुनवाई करते हुए जिला एवं सेशन न्यायाधीश एमआर सुथार ने बिहार के गया जिले के बाराचटी (सरघाटी) निवासी अभियुक्त श्यामदवे प्रसाद पुत्र बलदेव माथुर व बिहार के गया जिले के बाराड़ी (बाराचट्टी) निवासी अभियुक्त मैरथ कुमार पुत्र मेघा महतो

खबरें और भी हैं...