पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अपराध:ट्राेले में प्लास्टिक वेस्ट के नीचे 35 लाख की अवैध शराब हरियाणा से गुजरात ले जा रहे थे, 2 गिरफ्तार

पालीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीएसटी शाखा प्रभारी राजदीपेंद्रसिंह के बर चाैकी में कार्यभार संभालते ही पहले दिन बड़ी कार्रवाई

रायपुर थाना पुलिस ने शनिवार काे बर-झूठा के समीप करीब 35 लाख रुपए की अवैध शराब से भरा हुआ ट्राेला पकड़ने में कामयाबी हासिल की है। ट्रक में वेस्ट प्लास्टिक के नीचे शराब के 520 कार्टन भरकर तिरपाल से ढककर हरियाणा से गुजरात में सप्लाई करने के लिए ले जाया जा रहा था।

बर में आरोपियों का यह ट्राेला पुलिस की नजर से बच नहीं पाया। पुलिस ने इस मामले में दाे आरोपियों काे गिरफ्तार कर लिया है, जिन्हाेंने बताया कि हरियाणा के बहादुरगढ़ के समीप उनकाे यह ट्राेला साैंपा गया था। इसे गुजरात में लेकर पहुंचना था। पुलिस इसके सप्लायरों के बारे में पता लगा रही है। बर पुलिस चाैकी प्रभारी राजदीपेंद्र सिंह व थाना प्रभारी मनाेज राणा के नेतृत्व में कार्यभार संभालने के बाद पहले दिन ही इस बड़ी कार्रवाई काे अंजाम दिया है। एसपी राहुल काेटाेकी के निर्देश पर अवैध शराब तथा मादक पदार्थ तस्करों के खिलाफ पूरे जिले में विशेष अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही विशेष नाकाबंदी प्लान भी लागू किया गया है। शनिवार काे पुलिस काे सूचना मिली थी कि हरियाणा की तरफ से एक ट्रक में भारी मात्रा में अवैध शराब परिवहन कर उसे गुजरात में सप्लाई करने के लिए ले जाया जा रहा है।

पुष्टि हाेनेे के बाद एएसपी डाॅ. तेजपालसिंह व जैतारण डीएसपी सुरेश कुमार के निर्देशन में बर चाैकी प्रभारी राजदीपेंद्रसिंह व रायपुर थाना प्रभारी मनाेज राणा की अगुवाई में नाकाबंदी की गई। इस दाैरान गुजरात नंबर का ट्राेला आने पर उसे रुकवाकर तलाश किया ताे इसमें भारी मात्रा में अवैध शराब के कार्टन भरे हुए मिले।

आरोपियों ने पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए पानी की खाली बाेतलाें के वेस्ट काे शराब के कार्टनाें के ऊपर रखकर तिरपाल से ढंक दिया था। पुलिस ने ट्राेला काे जब्त कर उसमें शराब से भरे हुए 520 कार्टन बरामद किए हैं। वहीं जूनागढ़ गुजरात निवासी अासिफ पुत्र उस्मान ठेबा मुसलमान तथा खलासी आसिफ पुत्र युसुफ भाई शेख मुसलमान काे गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि बरामद शराब की कीमत करीब 35 लाख रुपए हैं।

तस्करी का नया तंत्र : ढाबा-दर-ढाबा से ही सप्लाई, 1200 किमी रास्ते में बदल जाते हैं चालक-खलासी

बताया जाता है कि पुलिस से बचने के लिए शराब सप्लाई तथा लदान करने के ठिकानाें के बारे में चालक व खलासी काे पता बताने के बजाय इनका कूरियर के रूप मेंं इस्तेमाल किया जाता है। बर के समीप हुई कार्रवाई के दाैरान दाेनाें आरोपियों काे यह शराब हरियाणा के बहादुरगढ़ स्थित एक ढाबे से साैंपी थी। ट्राेले में शराब पहले से ही भरी थी। इनकाे गुजरात बॉर्डर पर किसी ढाबे पर ले जाकर सौंपनी थी। वहां से आगे काेई आकर इस ट्रक काे ले जाता।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें