प्रशासन शहरों के संग अभियान 2 अक्टूबर से:कलेक्टर ने ली बैठक, निकायों को अभियान में पट्टें जारी करने का दिए लक्ष्य; 6 विभिन्न रंगों के पट्टे जारी किए जाएंगे

पालीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिले के निकाय अधिकारियों की बैठक लेते जिला कलेक्टर। - Dainik Bhaskar
जिले के निकाय अधिकारियों की बैठक लेते जिला कलेक्टर।

जिला कलक्टर ने मंगलवार को जिला कलक्टर सभागार में आयोजित जिले के नगर निकायों के अधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने कहा कि तीन चरणों में चलने वाले प्रशासन शहरों के संग अभियान के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण कर आमजन को पट्टे वितरित किए जाए। उन्होंने कहा कि 2 अक्टूबर से अभियान शुरू होना है जो तीन चरणों में चलेगा। सभी नगर निकाय अपने-अपने क्षेत्र में संघन प्रचार-प्रसार के साथ घर-घर सर्वे करवाकर जिनके पट्टे जारी नही उन्हें जानकारी देकर आवश्यक दस्तावेज के साथ आवेदन प्राप्त कर शिविर में गाइड लाइन के अनुसार पट्टे जारी करने की कार्रवाई करें। इसमें क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों का सहयोग लेने की भी बात कही।

उन्होंने कहा कि निकाय क्षेत्र 15 से 25 सितम्बर तक प्री कैंप का आयोजन होना है उसमें आमजन से पट्टे के लिए आवेदन लिए जाए। जिला कलक्टर ने बताया कि इस बार अलग-अलग श्रेणियों के लिए 6 विभिन्न रंगों के पट्टे जारी किए जाएंगे। अतः पट्टा पत्र प्रकाशन की पूर्ण व्यवस्थाएं की जाए। अभियान का प्रथम चरण 2 अक्टूबर से 31 दिसम्बर तक चलेगा, द्वितीय चरण 16 जनवरी से 31 मार्च तथा तृतीय चरण एक अप्रेल से चलाया जाएगा। जिले में सभी पालिका क्षेत्रों के प्रभारी अधिकारी नियुक्त किए गए है जो निरीक्षण कर तथ्यात्मक रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे।

निकायों को दिया पट्टे जारी करने का लक्ष्य

बैठक में उप महानिरीक्षक पंजीयन व मुद्रांक एवं अभियान के नोडल अधिकारी पी.एस.नागा ने कहा कि प्रशासन शहरों के संग के लिए नगर परिषद पाली 1500 पट्टे जारी करने का लक्ष्य दिया गया है। इसी तरह नगर पालिका सुमेरपुर को 900, सोजत को 600, रानी को 300, जैतारण को 350, सादड़ी को 300, तख्तगढ़ को 550, फालना को 300, यूआईटी पाली को 300 पट्टे का लक्ष्य तय किया गया हैं ।

अलग-अलग रंग के होंगे पट्टें

आवासीय, व्यवसायिक, संस्थागत, हैरिटेज, उद्योग इत्यादि श्रेणियों के लिए अलग रंग के पट्टे जारी किए जाएंगे। अभियान लम्बे समय तक चलेगा इसके लिए गाइड लाइन के अनुसार कार्य योजना बनाकर उसके अनुरूप कार्य करें। बैठक में यूआईटी सचिव वीरेन्द्रसिंह चौधरी सहित नगर पालिकाओं के अधिशाषी अधिकारियों ने अपने-अपने शहरी क्षेत्र में अब तक की गई कार्यवाही के संबंध में जानकारी दी। बैठक में नगर परिषद के आयुक्त ब्रिजेश राय, सचिव विनयपाल सहित सभी नगर निकाय के अधिकारी मौजूद रहें।

खबरें और भी हैं...