पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

झोपड़े में रखे गैस सिलेंडर में ब्लास्ट:6 मेमने, 21 चूजे जिंदा जले, परिवार गया हुआ था मजदूरी पर, वरना होता बड़ा हादसा

चौपड़ा (पाली)22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हादसे के बाद जले हुए झोपड़े के पास खड़ा मायूस परिवार का मुखिया। - Dainik Bhaskar
हादसे के बाद जले हुए झोपड़े के पास खड़ा मायूस परिवार का मुखिया।

सोजत के झूपेलाव ग्राम पंचायत के जोगियों की ढाणी में सौर ऊर्जा में शॉर्ट सर्किट से झोपड़े में आग लग गई। जिसे झोपड़े में रखा गैस सिलेंडर ब्लास्ट हो गया। हादसे में घर का सामान सहित 6 मेमने, 21 चूजे जिंदा जल गए। गनीमत रही कि परिवार खेत पर काम करने गया हुआ था। वरना बड़ा हादसा घटित हो जाता।

चौपड़ा के निकट स्थित जोगियों की ढाणी निवासी बन्नानाथ पुत्र शंभुनाथ की झोपड़ी बनी हुई हैं। रविवार को वह खेत में अपनी पत्नी के साथ मजदूरी पर गया हुआ था। शाम करीब पांच बजे सौर ऊर्जा की प्लेटमें अचानक शॉर्ट सर्किट हो गया। जिससे झोपड़े में आ लग गई। जो धीरे-धीरे झोपड़े में रखे गैस सिलेंडर तक पहुंच गया। जिससे सिलेंडर ब्लास्ट हो गया। हादसे के समय झोपड़ में 6 मेमनें बंधे हुए थे तथा एक पिंजरे में मुर्गियों के 21 चूजे बंद थे। जो जिंदा जल गए। घर में रखा अनाज, बर्तन, बिस्तर आदि सामान भी जल गया। झुपेलाव सरपंच योगेन्द्रसिंह ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने पर दमकल के लिए कॉल किया तथा ग्रामीणों की मदद से आग पर काबू पाया।

गनीमत थी आस-पास कोई दूसरी झोपड़ी नहीं थी
जहा बन्नानाथ की झोपड़ी बनी हुई हैं। उससे करीब 250-300 फीट की दूरी पर दूसरी झोपड़ी बनी हुई हैं। ऐसे में सिलेंडर में विस्फोट अन्य बड़ा नुकसान नहीं हुआ। आस-पास और झोपड़े होते तो उनको भी नुकसान पहुंचता।

खबरें और भी हैं...