पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:चंडावल फिल्टर प्लांट की दो साल से नहीं बदली रेती व कंकरीट, टंकियों में तैर रही काई व गंदगी

चंडावल4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • उपभोक्ताओं का आरोप- प्लांट से फिल्टर नहीं हो रहा पानी, गंदगी व कंटीली झाड़ियों का मकड़जाल फैला
  • 1996-97 में 16 करोड़ की लागत से बना था प्लांट, 18 से ज्यादा गांवों-ढाणियों में पेयजल सप्लाई

ग्राम में 20 लाख लीटर क्षमता का फिल्टर प्लांट है। यह चंडावल नगर,अटबड़ा व सांडिया सहित आसपास की दर्जनों ढाणी व बेरों की करीब सवा लाख की आबादी को पीने का पानी उपलब्ध कराता है। चंडावल फिल्टर प्लांट में 7 कार्मिक कार्यरत है, जिसमें से ज्यादातर स्थानीय क्षेत्र के निवासी है।

फिल्टर प्लांट परिसर में 7 कर्मचारियों के लगे होने के बावजूद फिल्टर प्लांट के पम्प हाऊस, कर्मचारियों के आवास, प्लांट के 6 डेम सहित पूरे फिल्टर प्लांट परिसर में लम्बे समय से सफ़ाई नहीं होने से पानी में कंटीली झाड़ियां,अंग्रेजी बबूल,आक व बेर के पेड़ उग गए। चंडावल ग्राम स्थित जलदाय विभाग का फिल्टर प्लांट अरावली पर्वतमाला की तलहटी में बने गजनई बांध से 20 किमी दूर चंडावल पेयजल लाइन से पानी आकर फिल्टर प्लांट में स्टोरेज होता है।

यहां से गजनई बांध का पानी फ़िल्टर कर चंडावल सहित आसपास के दर्जनों गांवों-ढाणियों की करीब एक लाख से ज्यादा आबादी को पेयजल आपूर्ति की जाती है। इसके बावजूद फिल्टर प्लांट के सभी 6 डेम की सफाई गत 2 वर्षाें से नहीं होने के चलते ग्रामीण क्षेत्र की आम जनता बिना फिल्टर का गंदा पानी पी रही है। वहीं दूसरी तरफ लापरवाही के चलते फिल्टर प्लांट का पंप हाउस ,सभी डेम सहित पूरे परिसर में गंदगी है। सफाई के अभाव में पूरे परिसर में कंटीली झाड़ियों के उग जाने से पूरा फिल्टर प्लांट अव्यवस्था की भेंट चढ़ गया है।

दाे साल से नहीं हुई फिल्टर प्लांट की टंकियों की सफाई

पिछले दो साल से चंडावल नगर सहित आसपास के करीब 15 गांवों के करीब एक लाख लोगों को फिल्टर पानी के नाम पर गंदा पानी पिलाया जा रहा है। फिल्टर प्लांट की बनी 6 टंकियों में से मात्र दो में पानी के फिल्टर करने का मात्र दिखावा किया जा रहा है। काम में ली जा रही दो टंकियों की स्थिति भी बदहाल है।

गजनई बांध से पेयजल योजना के तहत गांव के लोगों को शुद्ध पानी पिलाने की मंशा से वर्षों पूर्व चंडावल नगर में करोड़ों रुपए की लागत से फिल्टर प्लांट का निर्माण किया गया था। फिल्टर प्लांटों से पानी शुद्ध करके चंडावल नगर से सोजत विधानसभा क्षेत्र के आधा दर्जन गांवों में पेयजल में सप्लाई किया जा रहा है। मगर पिछले 2 वर्षाें से प्लांटों में फिल्टर होकर पानी जमा किए जाने वाले हौद की सफाई तक नहीं करवाई गई है।

^ठेकेदार की लापरवाही से चंडावल फिल्टर प्लांट के डेम की सफ़ाई समय पर नहीं हो रही है। पम्प हाऊस व जलदाय फिल्टर प्लांट की सफ़ाई व झाड़ी हटाकर सफ़ाई करवाने सहित पूरे मामले से सहायक अभियंता सोजत को अवगत करवाया जाएगा।
-घनश्याम,फ़िटर, पीएचइडी सोजत

^गजनई बांध से पेयजल लाइन बिछाकर चंडावल में फिल्टर प्लांट स्थापित किया था। चंडावल नगर सहित सांडिया, नाथलकुंडी, बासना, छितरिया, रुन्दिया, अटबड़ा सहित दर्जन भर ढाणियों व बेरों पर जीएलआर व एसएलआर से पेयजल की आपूर्ति की जा रही है।
-घेवरचंद भाटिया, सरपंच, ग्राम पंचायत चंडावल

सुरक्षा के लिए लगी रैलिंग भी क्षतिग्रस्त
डेम के ऊपरी हिस्से में कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए लगे लोहे की रैलिंग के पाइप जगह-जगह से टूट गए हैं। कई जगह से तो रैलिंग के लिए लगे लोहे के पाइप गायब है। ग्रामीणों ने आराेप लगाया कि फिल्टर प्लांट की सफाई नहीं हाेने से वे गंदा पानी पीने काे मजबूर है। इससे उनमें राेष व्याप्त है। पानी को शुद्ध करने के लिए ब्लीचिंग पाउडर व फिटकरी भी बिना नाप-ताैल के डाली जा रही है।

^चंडावल फिल्टर प्लांट के ठेकेदार की लापरवाही से रेत व कंकरीट समय पर नहीं बदली गई है। ठेकेदार को पाबंद किया गया है। चंडावल नगर फिल्टर प्लांट परिसर में गंदगी व कंटीली झाड़ियां उगी है ताे आज ही कार्यरत कर्मचारियों से जानकारी लेकर सफ़ाई कार्य प्राथमिकता से करवाएंगे।
-केदारलाल गुप्ता, सहायक अभियंता, जलदाय विभाग, सोजत

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें