पुलिस वाले की बेटी के साथ धोखा, आरोपी गिरफ्तार:सामाजिक प्रतिष्ठा बची रहे इसलिए एक बेटे के पिता ने समाज में की दूसरी शादी, मामला उजागर हुआ तो पत्नी को मानसिक रोगी बनाने के लिए दी गलत दवाइयां

पाली19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी जयेश नरावत जिसे पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार किया। तथा न्यायालय के आदेश पर जेल भेजा। - Dainik Bhaskar
आरोपी जयेश नरावत जिसे पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार किया। तथा न्यायालय के आदेश पर जेल भेजा।

एक बेटे के पिता ने खुद को कुंवारा बता कर समाज में शादी की। शादी के बाद मामला उजागर हुआ तो पहली पत्नी व बेटे को छोड़ने के लिए 50 लाख रुपए की डिमांड तक कर डाली। विवाद बढ़ा तो पत्नी को पागल करने के लिए उसे गलत दवाइंया देकर मानसिक रोग बनाने का प्रयास किया। आपसी समझाइश से सामाजिक स्तर पर मामला सुलझाने की कोशिश की लेकिन आरोपी व उसके परिवार के लोग नहीं माने तथा उसके गहने आदि भी हड़प लिए। आखिरकार पीड़िता ने फालना थाने में मामला दर्ज कराया। जिस पर पुलिस ने महाराष्ट्र के भाइंदर क्षेत्र निवासी आरोपी जयेश पुत्र बिशनसिंह नरावत (चारण) को बुधवार को गिरफ्तार किया। मामले की जांच कर रहे बाली थानाप्रभारी देवेन्द्रसिंह ने आरोपी को न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया।

फालना थाना क्षेत्र निवासी के धाणदा गांव निवासी सरदारसिंह चारण हाल ASI बांसवाड़ा की पुत्री पीड़िता लक्षिता कंवर पत्नी जयेश नरवाल ने 30 जुलाई 2021 को फालना थाने में रिपोर्ट दी। जिसमें बताया कि जोधपुर हाल भाइंदर (महाराष्ट्र) निवासी जयेश पुत्र बिशनसिंह नरावत (चारण) से 17 फरवरी 2014 को उसकी सगाई हुई। 6 मई 2017 को सामाजिक रीति रिवाजों से शादी हुई। जिसमें उसके पिता ने अपने सामर्थ अनुसार दहेज दिया। शादी के बाद वे अपने ससुराल के पैतृक गांव सरवड़ी व बाद में जोधपुर के बीजेएस स्थित मकान में रही। कुछ माह यहां रहने के बाद वे मुम्बई भाइंदर चली गई। जहां उसके पति बिजनेस करते हैं। शादी के बाद सबकुछ अच्छा चल रहा था ले लेकिन एक दिन उन्होंने देखा कि उनके पति के मोबाइल पर लड़कियों के आपत्तिजनक फोटो आ रहे हैं तथा होटल में मिलने के लिए बुलाया जा रहा हैं। इस बारे में पति से पूछा तो उन्होंने कहां यह नार्मल हैं।

शादी के बाद पता चली पति के दूसरे समाज की महिला से शादी करने की कहानी
रिपोर्ट में पीड़िता ने शादी के बाद कुछ माह तो सबकुछ ठीक चलता रहा। उसके बाद उसने ध्यान देना शुरू कयिा तो सामने आया कि उसके पति के मोबाइल पर कल्पना नाम की युवती के कॉल बार-बार आते थे और सोशल मीडिया पर चेटिंग भी खूब होती थी। तथा बिजनेस टूर्र के नाम पर पति बैंकॉक आदि जाते रहते थे तथा शहर में होने के दौरान भी काम का बहना कर देर रात को घर आते थे। घर में उसकी सास व अन्य लोग रूद्र नाम के बालक का काफी जिक्र करते थे तथा उसके लिए गिफ्ट भी भेजते थे। कल्पना व रूद्र के बारे में पूछा तो पति ने एक दिन कबूल कर दिया कि वर्ष 2011 से कल्पना नाम की एक लड़की के संपर्क में हैं तथा 2016 में उससे उन्होंने शादी भी कर ली। जिससे उन्हें रूद्र नाम का एक बेटा हैं। लेकिन वह दूसरे समाज की हैं। सामाजिक प्रतिष्ठा बची रहे इसलिए तुम से शादी की।

पहली पत्नी को छोड़ने के लिए आरोपी ने की 50 लाख की डिमांड
पीड़िता ने रिपोर्ट में बताया कि आरोपी ने पहली पत्नी कल्पना को छोड़ने के लिए उसे 50 लाख रुपए देने होंगे। यह राशि तुम अपने पिता से लाकर दे दो तो में कल ही कल्पना से अपना पीछा छुड़ा दूंगा। वरना चुपचाप घर में पड़ी रहो। तुम्हें मेरी तरफ से सबकुछ मिल रहा फिर टेंशन मत लो। जैसा चल रहा हैं वैसा चलने तो। उसी में खुश रहोगी।

बेटी को जन्म दिया तो हुए नाखुश
पीड़िता ने बताया कि जनवरी 2019 को वह डिलेवरी के लिए फालना थाना क्षेत्र स्थित अपने पीहर चली गई। 20 मार्च 2019 को जन्म दिया लेकिन सास-ससुर मिलने तक नहीं आए। बाद में जब वह अपने ससुराल पहुंची तो ताने मारे हमें तो बेटा चाहिए था। ओर तुमने बेटी का जन्म दे दिया। तुम्हारे घर वालों ने दहेज भी तो कम दिया। पीड़िता का आरोप हैं कि वे उसे घर से निकालना चाहते थे इसलिए नशे की दवाइयां तक देने लगे। तांत्रिक से ताबिज तक करवाए।

खबरें और भी हैं...