12 साल बाद मिला पानी, महिलाओं ने किया डांस:खुश होकर बोली- अब पेयजल के लिए भटकना नहीं पड़ेगा, राहत मिलेगी

बाली (पाली)7 महीने पहले
बाली के रामदेव कॉलोनी में डांस कर खुशी जताती महिलाएं।

पाली जिले के बाली के वार्ड संख्या तीन में आबाद रामदेव कॉलोनी, ढंढ कॉलोनीवासी इन दिनों खुशी मना रहे हैं। मोहल्ले की कुछ महिलाओं ने डांस कर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहां आखिर 12 साल के लम्बे इन्तजार के बाद उनकी कॉलोनी में जलदाय विभाग की ओर से हैंडपंप खुदवाया गया। इसलिए खुशी मना रहे हैं। बोले अब उन्हें नहाने-धोने एवं पीने के पानी भी भटकना नहीं पड़ेगा।

दरअसल, बाली के रामदेव कॉलोनी, ढंढ कॉलोनी की ओर स्थानीय प्रशासन ने कभी ध्यान नहीं दिया। 55 घरों की बस्ती वाली इस कॉलोनी में पेयजल की कोई व्यवस्था नहीं थी। पाइप लाइन बिछाने की मांग को लेकर क्षेत्रवासियों ने कही बार स्थानीय जनप्रतिनिधियों से लेकर अधिकारियों तक ऑफिस के चक्कर काटे लेकिन सुनवाई नहीं हुई। ऐसे में कॉलोनी वासियों को नहाने-धोने के लिए भी रुपए खर्चकर पानी के टैंकर मंगवाने पड़ रहे हैं।अब जाकर जलदाय विभाग ने यहां हेण्डपम्प खुदवाया हैं। इससे इन्हें कुछ राहत मिलेगी।

पाली जिले के बाली में रामदेव कॉलोनी में किया जा रहा बोरवेल।
पाली जिले के बाली में रामदेव कॉलोनी में किया जा रहा बोरवेल।

पाइप लाइन बिछाते तो अच्छा रहता
क्षेत्र की बगदीदेवी व हिम्मताराम मीणा का कहना हैं कि हेण्डपम्प को खोद कर अच्छा काम किया लेकिन पाइप लाइन बिछाई जाए तो घर तक पानी पहुंच जाता। क्षेत्रवासी महिलाओं को हैंडपंप तक जाना नहीं पड़ता। पार्षद प्रतिनिधि लाखाराम देवासी ने कहा कि आखिर जलदाय विभाग ने क्षेत्रवासियों की पीड़ा को समझ यहां हैंडपंप तो खुदवाया। इससे कुछ राहत मिलेगी। मोहल्ले की महिलाओं को अब पानी लेने के लिए ज्यादा दूरी का सफर तय नहीं करना पड़ेगा।