पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

6 दिन बाद भी नाममात्र का टीका:डिमांड थी एक लाख की, मिले सिर्फ 7603, अब 65-70 हजार लोग वैक्सीनेशन के लिए कतार में

पाली18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • इतना ही नहीं, दूसरी डोज लगाने वालों की भी समयावधि बीत रही

टीकों की कमी का असर वैक्सीनेशन पर पड़ रहा है। केंद्र से राज्यों को फ्री टीके मिलने के बाद से वैक्सीनेशन के आंकड़ों में तेजी आई, खासकर 18प्लस के युवाओं में। लेकिन पिछले कुछ दिनों से हालात बेहद खराब हैं। इसका असर वैक्सीनेशन पर पड़ा। उत्साहित युवा वर्ग टीकों की कमी के चलते वैक्सीनेशन करवाने से वंचित रह रहे हैं। इतना ही नहीं, दूसरी डोज लगाने वालों की भी समयावधि बीत रही है। बुधवार को ठीक 6 दिन बाद नाममात्र टीकों की खेप पाली पहुंची। जबकि प्रशासन ने ज्यादा से ज्यादा लोगों का टीकाकरण करने के लिए सरकार से एक लाख टीकों की मांग की थी, लेकिन केवल 7603 टीके ही मिले। अब वैक्सीनेशन के लिए 65-70 हजार लोग वैक्सीनेशन के लिए कतार में है। जुलाई महीने में केवल दो दिन ही सेशन साइट आयाेजित हुई। इसमें से दूसरे दिन भी कमी के चलते केवल नाम मात्र 280 लोगों ने ही टीके लगवाए। जानकारी के अनुसार जिले में अब तक 7 लाख 44 हजार 399 लोगों को टीका लग चुका है।

खबरें और भी हैं...