• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Pali
  • District Residents Please Note... The Train Carrying Water From Jodhpur Will Now Reach Pali With A Delay Of 10 Days.

अभी मानसून से उम्मीद:जिलेवासी कृपया ध्यान दें... जोधपुर से पानी लेकर आने वाली ट्रेन अब 10 दिन की देरी से पाली पहुंचेगी

पालीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जोधपुर में बना पाली को पानी भेजने का प्लान, एक अक्टूबर से चलेगी वाटर ट्रेन, तब तक मानसून का भी इंतजार

जवाई के कैचमेंट एरिया में बारिश नहीं हाेने के चलते दाे साल बाद एक बार फिर जिले में वाटर ट्रेन से पेयजल सप्लाई की नाैबत आ गई है। जवाई बांध में पानी की आवक नहीं हुई ताे 1 अक्टूबर से पाली में जाेधपुर से वाेटर ट्रेन आएगी। इसकाे लेकर जलदाय विभाग के अधिकारियाें ने जाेधपुर में रेलवे अधिकारियाें के साथ बैठकर पूरा प्लान तैयार कर लिया है। रेलवे अधिकारियाें ने भी 1 अक्टूबर से वाटर ट्रेन चलाने के लिए सहमति दे दी है। ऐसे में अगर बारिश नहीं हुई ताे दाे साल बाद एक बार फिर पाली काे वाटर ट्रेन से ही पीने का पानी मिलेगा।

गाैरतलब है कि इससे पहले 2019 में 25 जुलाई काे वाटर ट्रेन पाली आई थी। बुधवार काे जलदाय विभाग के एसई जगदीश प्रसाद शर्मा, जवाई प्राेजेक्ट के एसई मनीष माथुर, एक्सईएन अरुण माथुर ने जाेधपुर में रेलवे अधिकारियाें मिले। इस चर्चा के बाद एक अक्टूबर से वाटर ट्रेन से पानी लाने काे लेकर सहमति बनी है। रेलवे के अधिकारियाें ने भी इसे प्राथमिकता देते हुए सकारात्मक सहयाेग भराेसा दिया।

लाइव वाटर के बाद डेड स्टोरेज, उसके बाद ट्रेन

  • 20 सितंबर तक : जवाई के लाइव स्टाेरेज से 96 घंटे के एक बार सप्लाई जारी रहेगी, इसके बाद डेड स्टाेरेज पंपिंग शुरू हाेगी।
  • 21 सितंबर से 30 सितंबर तक : डेड स्टाेरेज के पानी के साथ 1 अक्टूबर से वाटर ट्रेन से सप्लाई करेंगे।
  • 31 अक्टूबर से अगले मानसून तक : वाटर ट्रेन के साथ टैंकर, बाणियावास व जाेगड़ावास बांध और शहर के कुओं से पेयजल सप्लाई हाेगी।

​​​​​​​21 सितंबर से आनी थी ट्रेन, अब 10 दिन बाद आएगी

जलदाय विभाग के माइक्राे प्लान में 21 सितंबर से वाटर ट्रेन से पानी लाने का प्रस्ताव तैयार किया गया था। लेकिन अब इसे 10 दिन बाद यानी एक अक्टूबर कर दिया है।

जवाई का पानी 20 सितंबर तक ही उपयाेग हाे सकेगा

जवाई बांध में अभी 10 फीट के करीब पानी बचा है। इसके हिसाब से 20 सितंबर तक ही पानी का उपयाेग हाे सकेगा। इसके बाद डेड स्टारेज से सप्लाई की जाएगी।

डीआरएम से वाटर ट्रेन काे लेकर मिले। बैठक में 1 अक्टूबर से वाटर ट्रेन चालने काे लेकर सहमति बनी है। एक माह के समय में जलदाय विभाग सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर लेगा। माइक्राे प्लान की स्वीकृति भी जल्द मिलेगी। - जेपी शर्मा, एसई, जलदाय विभाग

खबरें और भी हैं...