पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Pali
  • Due To Empty Pumps Of Hand Pumps, The Villagers Are Worried, The Drinking Water Crisis Is Also Deepened, The Problem Will Increase In The Summer.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अनदेखी:हैंडपंप मिस्त्रियाे के रिक्त पदाें के कारण ग्रामीण हाे रहे परेशान, पेयजल संकट भी गहरा रहा, गर्मियों में और बढ़ेगी परेशानी

देसूरी16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • देसूरी क्षेत्र में 1500 हैंडपंप, रखरखाव के लिए मिस्त्री मात्र 8

ब्लॉक में जलदाय विभाग के पास मात्र 8 हैंडपंप मिस्त्री मौजूद है। जबकि विभाग के पास 1500 से अधिक हैंडपंप है। गांवों एवं ढाणियों में जब भी हैंडपंप खराब होते हैं,उनकी मरम्मत के लिए हैंडपंप मिस्त्रियों को ग्रामीणों की मदद लेनी पड़ रही है। मरम्मत के अभाव में कई दिनों तक हैंडपंप खराब ही पड़े रहते हैं। जबकि एक हैंडपंप मिस्त्री तो पिछले दो वर्षों से तहसील में प्रतिनियुक्ति पर लगा हुआ,जो तहसील का सरकारी वाहन चलाता है।

इसको रिलीव करने के लिए कई बार अनुरोध करने बावजूद हैंडपंप मिस्त्री को रिलीव नहीं किया जा रहा है। ज्ञातव्य है कि देसूरी पंचायत समिति की ग्राम पंचायतों के गांवों एवं ढाणियों में आज भी हैंडपंप ग्रामीणों के लिए पेयजल का मुख्य स्त्रोत है। ऐसे में जलदाय विभाग द्वारा गांवों एवं ढाणियों में हैंडपंप खोद रखे हैं। जिनकी मरम्मत को लेकर विभाग की ओर से प्रत्येक पंचायत मुख्यालय पर हैंडपंप मिस्त्री की नियुक्ति कर रखी है।

देसूरी ब्लॉक में जलदाय विभाग के करीब 1500 हैंडपंप मौजूद है। मगर इनकी मरम्मत के लिए विभाग के पास मात्र 8 कार्मिक मौजूद है। गर्मी का मौसम शुरू होते ही हैंडपंपों का उपयोग ज्यादा होना शुरू हो जाता है। जलदाय विभाग के कुओं में पानी की कमी के कारण गांवों में तीन या चार दिनाें पानी की सप्लाई की जा रही है। ऐसे में ग्रामीणों के पास मात्र हैंडपंप के अलावा दूसरा कोई सहारा नहीं है। ऐसे में ज्यादा उपयोग होने के कारण यह हैंंडपंप खराब हो जाते हैं। जबकि कई हैंडपंपों का पानी नीचे चले जाने के कारण पाइप को जोड़कर अंदर उतरना पड़ता है।

ऐसे में दो हैंडपंप मिस्त्री उनको दुरूस्त करने के लिए पहुंचते हैं। मगर पाइपों को वजन इतना होता है कि दो कार्मिक उन्हें बाहर भी नहीं निकाल पाते हैं। ऐसे में हैंडपंप के आसपास रहने वाले लोगों को मदद के लिए इन कार्मिकों को बुलाना पड़ता है और ग्रामीणों की मदद लेकर इनको दुरूस्त करने का कार्य किया जा रहा है। जबकि राज्य सरकार को हैंडपंप की संख्या को ध्यान में रखकर मिस्त्रियाें की नियुक्ति करनी चाहिए।

मगर रिक्त पड़े पदों को भी नहीं भरे जा रहे हैं। जिसके कारण हैंडपंप मिस्त्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कई गांवों एवं ढाणियों में ग्रामीणों की मदद नहीं मिलने के कारण कई दिनोंं तक हैंडपंप खराब ही पड़े रहते हैं। जिसके कारण गर्मी के मौसम में ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

हैंडपंप मिस्त्री तहसीलदार वाहन का बना हुआ चालक
विधानसभा चुनाव को लेकर हैंडपंप मिस्त्री को तहसील में प्रतिनियुक्ति पर लगाया गया था। मगर विधानसभा चुनाव हुए दो वर्ष का समय गुजर गया। तहसील से रिलीव नहीं किया जा रहा है। जबकि गर्मी के मौसम में हैंडपंप मिस्त्री की आवश्यकता हाेती है। वहीं हैंडपंप मिस्त्री देसूरी तहसीलदार का वाहन चालने का कार्य कर रहा है। जबकि तहसील में वाहन चालक पद स्वीकृत है। उसके बावजूद हैंडपंप मिस्त्री का उपयोग किया जा रहा है।
गर्मी के मौमस में अधिक होते हैं हैंडंपप खराब
पानी की कमी के चलते गर्मी के मौसम में गांवों में स्थित हैंडपंपों का उपयोग ग्रामीणों द्वारा अधिक करने के कारण भी जल्दी खराब हो जाते हैं। जिसके कारण दो से तीन दिनों तक खराब हैंडपंप दुरूस्त नहीं हो पाते हैं। क्योंकि हैंडपंप मिस्त्री समय पर नहीं पहुंचते हैं।

हैंडंपप मिस्त्री की कमी से हो रही है परेशानी
गर्मी के मौसम में पानी का उपयोग अधिक होने के कारण ग्रामीण अंचल में हैंडपंप खराब हो जाते हैं। मगर उनके रखरखाव के लिए मात्र विभाग के पास 8 मिस्त्री ही मौजूद है। ऐसे में खराब हैंडपंपों की मरम्मत के लिए ग्रामीणों की मदद लेनी पड़ती है।
-महेश कुमार, कनिष्ठ अभियंता, जलदाय विभाग, देसूरी

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें