• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Pali
  • Even After Three Days, Amruti Rukia Murder Mystery Mystery The Secret Of The Murder Confined In The Surrounding Relationships

पुलिस कड़ी से कड़ी जाेड़ने में जुटी:तीन दिन बाद भी अमृती-रुकिया मर्डर मिस्ट्री रहस्य-आसपास के रिश्तों में ही सिमटा हत्या का राज

पालीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कंटालिया गांव में वृद्धाअमृतीदेवी अाैर उसकी दिव्यांग बेटी रुकिया प्रजापत की निर्ममता से हुई हत्या के राज खाेलने के लिए पुलिस ने दिन-रात एक कर दिया है। इन दाेनाें मां-बेटी से किसी की क्या दुश्मनी हाे सकती है, कपड़े धाेने की साेटी से दाेनाें काे एक साथ क्याें मारा गया? यह अब भी रहस्य है।

अब तक की जांच में यह ताे साफ हाे गया है कि अाराेपी ने लूट के इरादे से वारदात काे अंजाम नहीं दिया। इसके बाद भी दाेनाें की हत्या क्याें की गई, पुलिस इन सवालाें का जवाब तलाशने में जुटी है। वरिष्ठ अधिकारियाें के निर्देशन में जुटी 3 टीमाें ने अब की जांच में पता लगाया है कि अापसी रिश्तों में ही काेई अाराेपी छिपा है, हालांकि अाराेपी के शातिर हाेने के कारण इस मामले का खुलासा नहीं हाे रहा है। मंगलवार काे एसपी राजन दुष्यंत भी घटनास्थल पर पहुंचे।

यहां पर एएसपी विपिन शर्मा तथा साेजत डीएसपी डाॅ. हेमंत जाखड़ से अब तक पुलिस काे मिले सुराग के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी ली। माैका स्थल भी देखा। साथ ही जांच में जुटे अधिकारियाें काे कई अन्य टिप्स भी दिए। पुलिस का दावा है कि दाेहरे हत्याकांड का राज शीघ्र ही खाेल दिया जाएगा। जानकारी के अनुसार दाेहरे हत्याकांड के मामले में पुलिस का संदेह परिचित और रिश्तेदारों पर गहराता जा रहा है। एक-दाे दिन में ही इसका राज खुलने की उम्मीद पुलिस अधिकारियाें काे भी है। वह मामले से जुड़ी हुई आखिरी कड़ियां जोड़ने में जुटी है।

जांच का सारा फोकस पुलिस ने इन बिंदुअाें पर ही केंद्रीत कर रखा है। पुलिस का कहना है कि मां-बेटी की हत्या कर बदमाश बड़े आराम से मकान पर बाहर से ताला लगाकर फरार हो गया। आसपास रहने वाले लोगों भी घटना की जानकारी नहीं हो सकी। बंद मकान में पड़े-पड़े शव बदबू मारने लगे तब इस दोहरे हत्याकाण्ड के बारे में जानकारी मिले। पुलिस की अभी तक की जांच में सामने आया कि शाम ढलने के बाद आरोपी ने मां-बेटी की हत्या की। मृतका अमृतीदेवी के पड़ोस में शादी थी। ऐसे में शाम के समय बज रहे डीजे भी बज रहा था। एेेसे में हत्या के दाैरान चीख-पुकार की अावाज भी डीजे के शाेर में दब गई थी। एेसे में आरोपी आराम से दोनाें की हत्या कर फरार होने में कामयाब हो गया।

पुलिस ने बताया घटना के वक्त घर में लाइट जल रही थी। इसके साथ ही मृतका अमृतीदेवी रसोई में खाना बना रही थी, जिससे स्पष्ट होता है कि हत्यारा कोई परिचित ही था तथा शाम ढलने के बाद आया तथा वारदात को अंजाम देकर फरार हो गया। मंगलवार काे एसपी के पहुंचने पर सिरियारी थानाधिकारी हमीरसिंह, सोजतरोड थानाधिकारी ऊर्जाराम, बगड़ी नगर थानाधिकारी जीत सिंह, सोजत सिटी थानाधिकारी अनिल कुमार, एएसआई रंजीतसिंह से अलग-अलग बिंदुअाें पर की गई जांच के बारे में जानकारी ली।

खबरें और भी हैं...