पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेलवे की तैयारी:20 अक्टूबर से 30 नवंबर तक चलेंगी फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें

मारवाड़ जंक्शन8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 210 दिन बाद 20 अक्टूबर से फिर से पटरी पर दौड़ेगी अरावली एक्सप्रेस, नाम दिया फेस्टिवल स्पेशल
  • ट्रेन में नहीं होंगे जनरल कोच, रिजर्वेशन करवाना जरूरी

रेलवे प्रशासन ने आगामी नवरात्रि महोत्सव एवं दीपावली पर्व को देखते हुए 20 अक्टूबर से अगले माह 30 नवंबर तक फेस्टीवल स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरु करने का निर्णय लिया है। इसमें श्रीगंगानगर-बांद्रा टर्मिनस व बांद्रा टर्मिनस-श्रीगंगानगर अरावली एक्सप्रेस समेत विभिन्न ट्रेनें जिले के मारवाड़ जंक्शन, रानी, फालना, साेमेसर, साेजत राेड आदि से गुजरेगी।

अरावली एक्सप्रेस के लगातार 210 तक पहिए थमे रहने के बाद 20 अक्टूबर से इस ट्रेन का संचालन शुरु होगा, जो 21 अक्टूबर को पहुंचेगी। इस ट्रेन में अब जनरल कोच नहीं होगा। यात्रियों को केवल रिजर्वेशन से ही यात्रा की सुविधा मिल सकेगी। इससे प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से गुजरात व महाराष्ट्र में बसे प्रवासियों को आवाजाही के लिए बड़ी सुविधा मिल सकेगी।

इस त्योहारी सीजन में इन फेस्टीवल स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरु होने से मारवाड़ जंक्शन,आबूरोड से पोरबंदर, दिल्ली, पूरी, मुंबई, बीकानेर एवं यशवंतपुर आदि शहरों से यात्रा करने वाले लोगों को सुविधा मिल सकेगी।

इन ट्रेनों में नहीं होंगे जनरल कोच, रिजर्वेशन कराना जरूरी
इन ट्रेनों में भी स्पेशल ट्रेनों की तरह से सामान्य कोच नहीं होंगे। यात्रियों को रिजर्वेशन टिकट पर ही यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी। इन ट्रेनों में किराया स्पेशल ट्रेनों के अनुरुप ही होगा।

23 मार्च से बंद था ट्रेनाें का संचालन
यात्रियों की सुविधा के लिए डेढ़ घंटे पहले स्टेशन पर पहुंचने की अनिवार्यता भी नहीं होगी, स्टेशन पर यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी

कोरोना वायरस संक्रमण के बढते प्रभाव के बाद गत 23 मार्च से ट्रेनों का संचालन भी बंद कर दिया गया था। इसके बाद अब जैसे-जैसे हालात सामान्य होते जा रहे हैं वैसे-वैसे आवश्यकतानुसार स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू किया गया। आगामी त्याेहारों के दौरान आमजन को आवाजाही में किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो इसके लिए रेलवे प्रशासन की ओर से कई और नई फेस्टीवल स्पेशल ट्रेनें चलाने का निर्णय किया गया है।

इसमें 6 दर्जन ट्रेनें जिले से होकर गुजरेगी। इसके अलावा प्रदेश के विभिन्न स्थानों से काफी संख्या में प्रवासी अहमदाबाद, बडौदा, सूरत, वापी, पेटलाड व मुंबई समेत महाराष्ट्र में जगह-जगह बसे हैं। अरावली एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन शुरु होने से इन लोगों को आवाजाही में वर्तमान में हो रही परेशानियों का स्थाई समाधान हो सकेगा।

मारवाड़ स्टेशन से गुजरेगी ये ट्रेनें

  • श्रीगंगानगर-बांद्राटर्मिनस एवं बांद्रा टर्मिनस-श्रीगंगानगर अरावली एक्सप्रेस ट्रेन नियमित रुप से संचालित होगी।
  • बीकानेर-बांद्राटर्मिनस एवं बान्द्राटर्मिनस-बीकानेर साप्ताहिक
  • जम्मूतवी- बांद्रा टर्मिनस एवं बांद्राटर्मिनस-जम्मूतवी साप्ताहिक
  • बांद्राटर्मिनस-जैसलमेर व जैसलमेर-बांद्रा टर्मिनस
  • अजमेर-दादर व दादर-अजमेर साप्ताहिक।

17 अक्टूबर से चलेगी पोरबंदर-दिल्लीसराय रोहिल्ला-पोरबंदर द्विसाप्ताहिक स्पेशल रेलसेवा
पोरबंदर-दिल्लीसराय रोहिल्ला द्वि साप्ताहिक रेलसेवा 17 अक्टूबर से मंगलवार एवं शनिवार को संचालित होगी। जबकि, दिल्लीसरायरोहिल्ला-पोरबंदर द्वि साप्ताहिक रेलसेवा सोमवार एवं गुरुवार को संचालित होगी। यह ट्रेन जामनगर, राजकोट जंक्शन, सुरेंद्रनगर, वीरमगाम जंक्शन, चांदलोडिया, मेहसाणा, पालनपुर, आबूरोड, फालना, मारवाड़ जंक्शन, ब्यावर, अजमेर, किशनगढ, फूलेरा, जयपुर, बांदीकुई, अलवर, खेरथल, रेवाडी, गुडगांव एवं दिल्ली केंट स्टेशनों पर ठहराव करेगी।

इस रेल सेवा की ठहराव वाले स्टेशनों की समय सारणी पर गाड़ी संख्या 19263, 19264 की समय सारणी के अनुसार पहले की तरह ही रहेगी। इसमें सैकेंड एसी, थर्ड एसी, द्वितीय शयनयान, द्वितीय कुर्सीयान, पेंट्रीकार व गार्ड डिब्बे होंगे। रेलवे प्रशासन के अनुसार अब यात्रियों के लिए ट्रेन आगमन से डेढ़ घंटे पहले पहुंचने की अनिवार्यता नहीं रहेगी। यात्री की ओर से रिजर्वेशन के दौरान यात्रा एवं स्वयं के संबंध में पूरी जानकारी दे जाती है। ऐसे में अलग से रिकार्ड नहीं लिया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...