रेप पीड़िता मॉडल बोलीं- धोखेबाज को सजा दिलाकर रहूंगी:उसने मेरी लाइफ खराब कर दी, न्याय मिलने तक लडूंगी

पाली3 महीने पहले

शादी का झांसा देकर फोटोग्राफर सिद्धार्थ ने रेप किया। बार-बार कहने पर उसने मंदिर में शादी में कर ली, लेकिन साथ में नहीं रखा। अब घर छोड़कर जोधपुर से पाली आ गई। उसके स्टूडियो की सीढ़ियों पर रात गुजारी। इसके बाद भी संभालने नहीं आया। यह कहना है, जोधपुर की रेप पीड़िता मॉडल का। कहा - आरोपी को सजा दिलवाकर रहूंगी। जब तक न्याय नहीं मिलेगा पाली में ही रहूंगी।

26 साल की जोधपुर की रहने वाली मॉडल ने मंगलवार को पाली के फोटोग्राफर सिद्धार्थ वैष्णव पुत्र मनोज कुमार वैष्णव के खिलाफ रेप का मामला दर्ज करवाया था। मॉडल ने युवक पर रेप और मंदिर में शादी के बाद पत्नी नहीं मानने का आरोप लगाया है। फोटोग्राफर के खिलाफ पाली में रेप का मामला दर्ज किया गया है। मॉडल ने अपने दर्द को भास्कर के साथ बयां कर बताया कि...

मां से 500 रुपए लेकर पाली आई
मैं मां से 500 रुपए लेकर 16 जून की शाम जोधपुर से पाली के लिए रवाना हुई थी। बाईपास पर बस से उतरने के बाद टैक्सी लेकर पुराना बस स्टैंड सिद्धार्थ के स्टूडियो पहुंची। कई बार कॉल किया, लेकिन उसने फोन ही बंद कर दिया। रात उसके स्टूडियो की सीढ़ियों पर गुजारी। नींद आने लगी तो कुछ समय के लिए पास के नेहरू गार्डन में जाकर सो गई।

यूज कर अपनाने से किया मना
17 जून की सुबह उससे मिलना हुआ। उसे समझाया कि वह उसे अपना ले, लेकिन वह नहीं माना और स्टूडियो से निकाल दिया। मॉडल ने बताया कि मां ने मना भी किया था, लेकिन सिद्धार्थ को समझाने और उसके साथ लाइफ बिताने आ गई। रात भर उसके स्टूडियो की सीढ़ियों पर रात गुजारी, लेकिन संभालने तक नहीं आया। उसने फरवरी में मंदिर में शादी की। अब मैं उसकी जिम्मेदारी हूं।

मुझे यूज कर अब वह अपनाने से इनकार कर रहा हैं। अब जब तक न्याय नहीं मिलेगा पाली छोड़कर नहीं जाऊंगी। पढ़ी-लिखी हूं, पाली में नौकरी कर लूंगी, किराए के मकान में रह लूंगी ,लेकिन मेरी लाइफ बिगाड़ने वाले सिद्धार्थ को सजा दिलाए बिना जोधपुर नहीं जाऊंगी।

रेप पीड़िता मॉडल ने दैनिक भास्कर को अपनी आपबीती बताई।
रेप पीड़िता मॉडल ने दैनिक भास्कर को अपनी आपबीती बताई।

मां ने उसे भूलकर लाइफ में आगे बढ़ने को कहा
मैंने मां को बताया था कि, सिद्धार्थ समाज के सामने शादी करने से इनकार कर रहा है। अपनाने से भी मना कर दिया। मां ने उसे भूलकर जीवन में आगे बढ़ने को कहा। विश्वास था कि सिद्धार्थ से मिलकर उसे समझा दूंगी, लेकिन मैं गलत थी। उसने मुझे छोड़ दिया।

रेलवे स्टेशन पर बिताई रात
सिद्धार्थ के मना करने पर 17 जून को पाली के कोतवाली थाने गई तो औद्योगिक थाने भेजा। वहां भी सुनवाई नहीं हुई। रात गुजराने के लिए कोई ठिकाना नहीं था। औद्योगिक थाने में जो ड्यूटी ऑफिसर थे। उन्होंने रेलवे स्टेशन भेज दिया और रात वहां रूकी। 18 जून को फिर से औद्योगिक थाने गई, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। महिला थाने जाने को बोला। वहां किसी मामले में कुछ महिलाएं आई हुई थी। उन्होंने सखी सेंटर जाने की सलाह दी। सेंटर प्रभारी देवी बामणिया को सारी कहानी बताई। उनकी सूचना पर कोतवाली थाना पुलिस पहुंची। आखिर दो दिन बाद मामला दर्ज हुआ। पीड़िता के अब 164 के बयान होंगे।

शादी का झांसा देकर जिंदगी बर्बाद की
उसने मुझे शादी का झांसा दिया, मंदिर में माला पहनाकर शादी की। तीन-चार साल से एक-दूसरे को पहचानते हैं। अब कहता है कि दोनों अलग जाति के हैं। मेरा जीवन बर्बाद कर दिया। अब कौन मुझसे शादी करेगा। उसे सजा दिलाना ही अब मेरी लाइफ का लक्ष्य हैं।

2019 में जोधपुर में हुई मुलाकात
साल 2019 में सिद्धार्थ ने जोधपुर के सरदारपुरा सी रोड पर एक दोस्त के साथ पार्टनरशिप में स्टूडियो खोला था। उसके शुभारंभ में एक दोस्त के साथ मॉडल भी पहुंची थी। वहां पहली बार दोनों मिले थे। तब सिद्धार्थ को एक मॉडल की जरूरत थी। इस तरह दोनों में कांटेक्ट हुआ। मॉडल ने बताया कि फरवरी में मंदिर में दोनों ने शादी की थी, लेकिन साथ नहीं। इंस्टाग्राम पर शादी के फोटो डाले तो दोनों के बीच लड़ाई हुई। जिसके बाद युवक ने बातों में उलझाकर फोटो डिलीट करवा दिए।

यह भी पढ़े : जोधपुर की मॉडल से फैशन फोटोग्राफर ने किया रेप:* वीडियो शूट में हुई थी पहचान; शादी का झांसा देकर करता रहा दुष्कर्म