पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Pali
  • More Than 80 Percent Posts Of Teachers Were Filled In The District, Even After This, The Result Of Commerce Fell By 2.52%, Shift To 30th In The State

परिणाम विश्लेषण:जिले में शिक्षकों के 80 फीसदी से अधिक पद भरे, इसके बाद भी कॉमर्स का रिजल्ट 2.52% गिरा, प्रदेश में 30वें स्थान पर पाली

पाली25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रदेश में छात्र 31वें और छात्राएं 21वें स्थान पर रहीं, बांसवाड़ा, जैसलमेर और बारां से ही आगे रहा पाली
  • प्रदेश में हम कहां: पिछले साल पहली बार पाली प्रदेश के टाॅप 10 जिलों में शामिल हाेकर 10वीं रैंक पर था, इस बार 20 स्थान पीछे खिसके
Advertisement
Advertisement

माध्यमिक शिक्षा बाेर्ड द्वारा विज्ञान के बाद साेमवार काे जारी काॅमर्स के परिणाम में भी शिक्षा विभाग पूरी तरह से फेल हाे गया। प्री बाेर्ड से लेकर परिणाम सुधार के बड़े-बड़े दावे खाेखले नजर अाए। परिणाम में पिछले साल के मुकाबले 2.52 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। पाली का कुल परिणाम 91.06 फीसदी रहा। बेटाें का परिणाम 89.21 फीसदी रहा।

बेटियाें का कुल परिणाम 95.65 फीसदी रहा। प्रदेश में पाली की स्थिति टाॅप-20 में भी नहीं रही। पिछले साल टाॅप-10 में शामिल पाली इस बार 20 स्थान लुढ़कर 30वें स्थान पर आ गया। पाली से पीछे बांसवाड़ा 31वीं, जैसलमेर 32वीं व बारां 33वें स्थान पर रहा।

चाैंकाने वाली बात यह कि छात्राें के परिणाम में ताे पाली 31वें स्थान पर रहा। छात्राएं भी 21वें स्थान पर रहीं। यह भी स्थिति तब है जब स्कूलाें में शिक्षकाें के 80 फीसदी से अधिक पद भरे हुए हैं। इधर, डीईओ जगदीश राठाैड़ ने कहा कि परिणाम में गिरावट मंथन का विषय है। कमी ताे रही है, लेकिन इसमें सुधार करेंगे। 

परिणाम में गिरावट के कारण 

आत्मविश्लेषण नहीं

लाॅकडाउन के बाद दाे परीक्षाएं हुई। इन परीक्षाओं में बच्चाें के अच्छे नंबर आए। लेकिन पहले वाली परीक्षाओं में अपेक्षाकृत अधिक नंबर नहीं आए। इसके चलते परीक्षा परिणाम आशा के अनुरूप नहीं रहा। यानी लाॅकडाउन का मनाेविज्ञानिक दबाव जरूर दिखा। ऐसे में यह दबाव नंबराें काे कम कर गया।

यह साेचनीय

स्कूलाें में काॅमर्स के 80 फीसदी से अधिक शिक्षकाें के पद भरे हैं। इसके बाद भी परिणाम गिरा। जिले में 66 पद स्वीकृत हैं। इसमें से 54 पदाें पर व्याख्याता कार्यरत हैं। सिर्फ 12 पद ही रिक्त हैं। इसके बाद भी काॅमर्स का परिणाम गिरना साेचनीय है। पिछले साल के मुकाबले 2.52 फीसदी परिणाम में गिरावट हुई। 

माॅनिटरिंग में रही कमी

पाली में संयुक्त निदेशक से लेकर डीईओ सहित दर्जनाें अधिकारी माॅनिटरिग के लिए हैं। पंचायत स्तर पर पीईईओ लगाए हैं।  इसके बाद भी काॅमर्स के परिणाम में शर्मिंदा हाेना पड़ा। क्याेंकि धरातल पर माॅनिटरिंग का अभाव रहा।

छात्र पीछे से टाॅप-3 में, छात्राएं 21वें स्थान पर 

जिले के छात्र इस बार खराब प्रदर्शन करते हुए पीछे से टाॅप-3 जिलाें में शामिल हाेते हुए 31वें स्थान पर रहे। वहीं छात्राएं रैंकिंग में प्रदेश में 9 स्थानाें की गिरावट के साथ 12वें से 21वें स्थान पर रहीं।

आधे स्टूडेंट्स फर्स्ट डिवीजन 

वाणिज्य वर्ग में जिले में कुल 1119 छात्राें ने परीक्षा दी। इसमें से 572 स्टूडेंट्स के प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण हुए।

छात्राओं ने पछाड़ा छात्राें काे, 6.44% आगे 

जिले का कुल परिणाम 91.06 फीसदी रहा। इसमें छात्राें का परिणाम 89.21 फीसदी रहा। ताे छात्राओं का परिणाम 95.65 फीसदी रहा। यानी छात्राएं इस बार 6.44 फीसदी छात्राें से अागे रहीं।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement