डॉग के हमले से बचने कुएं में गिरी नील गाय:80 फीट गहरे सूखे कुएं में गिरी 120 किलो वजनी नील गाय, तीन पैर टूटे, 04 घंटे का रेस्क्यू कर निकाला

पाली।4 महीने पहले
पाली के सोजत रोड के आलावास गांव के निकट 80 फीट गहरे सूखे कुएं में गिरी नील गाय को क्रेन की सहायता से निकालते हुए। - Dainik Bhaskar
पाली के सोजत रोड के आलावास गांव के निकट 80 फीट गहरे सूखे कुएं में गिरी नील गाय को क्रेन की सहायता से निकालते हुए।

पाली जिले के सोजत रोड के निकट मंगलवार रात को डॉग के हमले के दौरान बचने के लिए दौड़ रही एक 120 किलो वजनी नील गाय 80 फीट गहरे सूखे कुएं में गिर कर गंभीर घायल हो गई। हादसे में उसकी तीन पैर टूट गए। सूचना पर वन विभाग सियाट की टीम गुरुवार दोपहर को मौके पर पहुंची। करीब 04 घंटे के रेस्क्यू के बाद नील गाय को निकाला जा सका।

हुआ यूं कि मंगलवार रात को कुछ डॉग ने नील गाय पर हमला कर दिया। बचने के लिए भागी नील गाय आलावास के निकट एक खेत में बने 80 फीट गहरे सूखे कुएं में जा गिरी। बुधवार दोपहर को आलावास के लक्ष्मणदास को जानकारी हुई तो उसने गौपुत्र सेना मारवाड़ संस्था के पदाधिकारियों को जानकारी दी। मौके पर सियाट वन विभाग की टीम पहुंची। गौपुत्र सेना के महेंद्र, देपन व प्रेमसुख जांगिड़ को क्रेन की सहायता से कुएं में उतारा। जिन्होंने नील गाय के पेट पर पट्‌टा बांध उसे क्रेन की सहायता से कुएं से बाहर निकाला। जिसे गौपुत्र सेना सोजत की एम्बुलेंस की सहायता से सियाट वन विभाग ले गए। इस दौरान गौ पुत्र सेना के तहसील अध्यक्ष भेराराम प्रजापत मुसालिया,जिला प्रभारी दिनेश मेवाड़ा, मारवाड तहसील अध्यक्ष भेराराम प्रजापत मुसालिया, तहसील कोषाध्यक्ष महेंद्र कुमार सवराड़ सहित कई जने मौजूद रहे।

(फोटो-वीडियो : राजेश शर्मा, सोजत रोड)

खबरें और भी हैं...