पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जवाई पर विवाद:4000 में से 100 एमसीएफटी पानी दिसंबर तक देने की शर्त का विराेध, महापड़ाव की चेतावनी

पाली3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जवाई से पाण के निर्णय काे लेकर आयाेजित बैठक में उपस्थित जल उपयाेक्ता संगम अध्यक्ष विभागीय अधिकारी।
  • जवाई बांध से सिंचाई के पानी काे लेकर फिर विवाद, अब किसान नाराज

जवाई बांध से किसानाें काे सिंचाई के लिए दिए जाने वाले पानी की पाणाें के दिनाें का निर्धारण करने के लिए जल संसाधन विभाग कार्यालय में रविवार को अधिशाषी अभियंता चंद्रवीरसिंह की अध्यक्षता में जल उपयाेक्ता संगम अध्यक्षों की बैठक हुई।

बैठक में 4000 एमसीएफटी पानी में से 3900 एमसीएफटी पानी देने एवं दिसंबर तक पीएचईडी द्वारा नई परियाेजना के लिए रिजर्वायर निर्माण व पाइपलाइन बिछाने का कार्य नहीं हाेने की दशा में शेष 100 एमसीएफटी पानी देने की शर्त जाेड़ने का संगम अध्यक्षाें ने विराेध जताक बैठक का बहिष्कार किया। उन्होंने पूरे 4000 एमसीएफटी की मांग करते हुए किसान संघर्ष समिति के सानिध्य में बैठक लेकर आगामी बुधवार काे महापड़ाव व आंदाेलन करने का निर्णय लिया।

जल उपयोक्ता संगम की बैठक का बहिष्कार, बुधवार को किसानों की बैठक में होगा आंदोलन का निर्णय

गाैरतलब है कि जवाई बांध से किसानाें काे 4000 एमसीएफटी पानी सिंचाई के लिए दिए जाने के बाद जलदाय विभाग अपने हिस्से में कम पानी आने की शिकायत करते हुए जिले में 72 घंटे में एक बार पानी सप्लाई देने की घाेषणा की थी। लेकिन जनप्रतिनिधियाें व शहरवासियाें के विराेध के चलते उसने अपना निर्णय वापस लेकर फरवरी में रिव्यू करने का कहा था।

जल वितरण कमेटी की बैठक में 4 हजार एमसीएफटी पानी दिया था

गौरतलब है कि गत 7 अक्टूबर को जवाई बांध जल वितरण कमेटी की बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संभागीय आयुक्त व जल वितरण समिति के अध्यक्ष समित शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित हुई थी। जिसमें किसानों को 4000 एमसीएफटी पानी सिंचाई के लिए देने का निर्णय हुआ था। जिसकी घोषणा एसडीएम ने की थी।

इसके विपरीत संभागीय आयुक्त द्वारा प्रोसिडिंग रिपोर्ट सिंचाई विभाग को भेजे जाने में 100 एमसीएफटी पानी किसानों के लिए कम करने का निर्णय दिए जाने पर किसान संघर्ष समिति व संगम अध्यक्षों ने विरोध करते हुए महापड़ाव की चेतावनी दी।

100 एमसीएफटी पानी कम मंजूर नहीं

7 अक्टूबर को जवाई बांध जल वितरण कमेटी की बैठक में निर्णय अनुसार किसानों को 4000 एमसीएफटी पानी सिंचाई के लिए देना था, लेकिन कार्यक्रम विवरण में किसानाें काे 3900 एमसीएफटी पानी देने एवं दिसंबर माह तक पीएचईडी द्वारा नई परियाेजना के लिए रिजर्वायर निर्माण व पाइपलाइन बिछाने का कार्य नहीं हाेने की दशा में शेष 100 एमसीएफटी पानी देने की शर्त जाेड़ने का संगम अध्यक्षाें ने विराेध किया।

दिसंबर बाद किसानाें के लिए 100 एमसीएफटी पानी का काेई उपयाेग नहीं रहेगा। उन्हाेंने बैठक का बहिष्कार कर 4 हजार एमसीएफटी पानी की मांग की। बाद में सुमेरपुर कृषि उपज मंडी में किसान संघर्ष समिति की बैठक अध्यक्ष जयेन्द्रसिंह गल्थनी की अध्यक्षता में हुई, जिसमें संगम अध्यक्ष व समिति पदाधिकारियों ने 100 एमसीएफटी पानी नहीं दिए जाने पर बुधवार को महापड़ाव व आंदोलन का निर्णय लिया।

बैठक में संगम अध्यक्ष ईश्वरसिंह थूम्बा, चंदनसिंह, फतेहसिंह, नारायणसिंह, हनवंतसिंह, नरपतसिंह मदेरणा, तेजसिंह रसियावास, बजरंगसिंह, शैतानसिंह, अजयपालसिंह, रूपाराम मीणा, धनसिंह जाखोडा, रघुवीरसिंह, उमाशंकर मूंदड़ा सहित कई किसान नेता मौजूद थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें