पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अच्छी खबर:रास-मांडल हाइवे होगा सीमेंटेड, 253 करोड़ खर्च हाेंगे, सफर में 1 घंटा बचेगा

पाली16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले का तीसरा हाइवे-158 भी सीमेंटेड होगा, गुरुग्राम की कंपनी को मिला ठेका

जिले के हिस्से में एक सप्ताह में ही दूसरी खुशखबरी आई है। पाली से भीलवाड़ा काे जाेड़ने के लिए एक नया फाेरलेन शीघ्र ही बनने वाला है। अंतिम छाेर पर आबाद रास से ब्यावर-मांडल यानी भीलवाड़ा तक काे जाेड़ने वाला यह 116 किलाेमीटर तक का पूरा मार्ग ही सीमेंटेड बनेगा। इसके लिए टेंडर प्रक्रिया काे भी अंतिम रूप देने के साथ ही वर्कऑर्डर भी जारी कर दिया है।

गुरुग्राम की एक प्रमुख निर्माण कंपनी इसका काम करेगी। इस सड़क पर कुल 253 कराेड़ रुपए खर्च हाेंगे। यह मार्ग के बनने के बाद जिले में यह तीसरा हाइवे हाे जाएगा, जाे पूरी तरह से सीमेंटेड हाेगा। इससे पहले सांडेराव-तखतगढ़-आहाेर तथा बर-जैतारण-बिलाड़ा का सड़क मार्ग माैजूद है।

इस नए फाेरलेन के बनने के बाद रास से मांडल तक जाने की दूरी भी कम हाे जाएगी। ब्यावर तक का सफर ताे महज 25 मिनट का ही रह जाएगा, जबकि वर्तमान में सड़क मार्ग खराब हाेने के कारण 1 घंटा लग जाता है। जानकारी के अनुसार ब्यावर से रास-मांडल तक बनने जा रहे फाेरलेन पर 253 करोड़ लागत आएगी।

वर्कऑर्डर के बाद गुरुग्राम की कंपनी के लोग यहां पहुंच गए हैं। रास से मांडल तक बनने वाले 116 किमी हाइवे के एक फेज का रास से ब्यावर तक फोरलेन बनना है। इसे सीमेंट कंपनियाें से निकलने वाले वाहनों के दबाव काे देखते हुए ही बनाया जा रहा है।

कुल 116 किमी सड़क होगी सीमेंटेड, रोजाना 11 हजार वाहनों का रहता है ट्रैफिक, फोरलेन 2 साल में बनकर हो जाएगा तैयार

सर्वे के मुताबिक हाइवे पर रोजाना करीब 11 हजार पीसीयू (पैसेंजर कार यूनिट) का ट्रैफिक है। ऐसे में 30 किमी तक बनने वाले फोरलेन को आसपास के सीमेंट प्लांट से सीमेंट और अन्य रॉ मेटेरियल सहजता से मौके पर उपलब्ध होने को ध्यान में रखते हुए सीसी में बनाने का निर्णय लिया गया।

डामर हाइवे और सीसी हाइवे में लागत की बात करें तो करीब दो से तीन गुणा बैठती है। इसकी वजह है डामर हाइवे का तीन साल में ही मेंटीनेंस तो सीसी हाइवे का 15 साल बाद। क्योंकि सीसी हाइवे पर करीब एक फीट कंकरीट व एक फीट सीमेंट की परत चढ़ती है, जबकि डामर हाइवे में इतनी डामर की परत नहीं चढ़ती।

पाली जिले में अब तक दाे हाइवे सीमेंटेड

  • सांडेराव से जालाेर की तरफ जाने वाला हाइवे
  • बर से जैतारण-बिलाड़ा तक जाने वाला मार्ग

यह भी सुखद : भीलवाड़ा जाने वाले दाे मार्ग पाली से सीधे जुड़ेंगे

  • पहला : पाली से गुड़ा चतुरा तक हाल ही में प्रदेश सरकार ने स्टेट हाइवे बनाने की मंजूरी दी है। यह मार्ग आगे जाकर देवगढ़ से जुड़ेगा। इसके बाद गिलवाड़ा से हाेते हुए भीलवाड़ा पहुंचा जा सकेगा।
  • दूसरा : ब्यावर-मांडल तक 116 किमी फाेरलेन तैयार हाे रहा है। यह मार्ग ब्यावर से हाेकर गुजरेगा। इस मार्ग के लिए तकनीकी व वित्तीय स्वीकृति पहले ही मिल चुकी है। टेंडर भी हाे चुका।

तय समय में पूरा होगा कार्य

रास से मांडल तक बनने वाले हाइवे के एक फेज में ब्यावर तक सीसी फोरलेन हाइवे बनाया जा रहा है। इस फाेरलेन का तय समय में कार्य पूरा हो यहीं हमारा प्रयास रहेगा। निर्माणकारी कंपनी के तकनीकी अधिकारी भी पहुंच चुके हैं। -देवांश नुवाल, प्रोजेक्ट डायरेक्टर

खबरें और भी हैं...