REET परीक्षा देने देर रात पहुंचे अभ्यर्थी:बस स्टैंड परिसर में प्रशासन ने टेंट लगाया, लेकिन लाइट की व्यवस्था नहीं की; अभ्यर्थी बोले- न पंखा हैं न रोशनी, कैसे पढ़े और कैसे सोए

पालीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुस्लिम मुसाफिर खाने में सोते अभ्यर्थी। - Dainik Bhaskar
मुस्लिम मुसाफिर खाने में सोते अभ्यर्थी।

जिले भर में REET की परीक्षा रविवार को दो पारियों में होने वाली हैं। बसों में भीड़ अधिक रहेगी। इस आशंका के चलते कई अभ्यर्थी 24 सितम्बर की देर शाम को ही पाली पहुंच गए। जिससे की अपने परीक्षा सेंटर पर समय पर पहुंच सके। जानकारी के अभाव में यहां उन्हें असुविधा का सामना करना पड़ा। भास्कर टीम शुक्रवार रात करीब 11.30 बजे रोडवेज बस स्टैंड पहुंची तो यहां प्रशासन की ओर से लगाए गए टेंट में करीब 80 से ज्यादा अभ्यर्थी मिले जिनमें एक महिला अभ्यर्थी भी शामिल थी।

अधिकतर का परीक्षा सेंटर पाली था। प्रशासन की ओर से यहां जिस टेंट की व्यवस्था की गई उसमें न तो रोशनी की व्यवस्था थी और न पंखें लगे हुए थे। ऐसे ने अन्य जिलों से आए अभ्यर्थियों को यहां सोने व पढ़ने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। ऐसे में भास्कर टीम ने सामाजिक सरोकार निभाते हुए बस स्टैंड के निकट ही स्थित मुस्लिम मुसाफिर खाने में सोने की व्यवस्था अभ्यर्थियों के लिए करवाई।

रोडवेज बस स्टैंड परिसर में प्रशासन द्वारा लगाए गए टेंट में शुक्रवार देर रात को कुछ इस तरह बैठे नजर आए रीट परीक्षा देने आए अभ्यर्थी।
रोडवेज बस स्टैंड परिसर में प्रशासन द्वारा लगाए गए टेंट में शुक्रवार देर रात को कुछ इस तरह बैठे नजर आए रीट परीक्षा देने आए अभ्यर्थी।
निजी वाहनों से कुछ इसी तरह शुक्रवार देर रात को नया बस स्टैंड से मुस्लिम मुसाफिर खाने अभ्यर्थियों को पहुंचाया गया।
निजी वाहनों से कुछ इसी तरह शुक्रवार देर रात को नया बस स्टैंड से मुस्लिम मुसाफिर खाने अभ्यर्थियों को पहुंचाया गया।
निजी वाहनों से कुछ इसी तरह शुक्रवार देर रात को नया बस स्टैंड से मुस्लिम मुसाफिर खाने अभ्यर्थियों को पहुंचाया गया।
निजी वाहनों से कुछ इसी तरह शुक्रवार देर रात को नया बस स्टैंड से मुस्लिम मुसाफिर खाने अभ्यर्थियों को पहुंचाया गया।

कुछ ऐसे दर्द बयां किया परीक्षार्थियों ने
अलवर जिले से आए अभ्यर्थी नरेश कुमार सैनी ने बताया कि रोडवेज बस में भीड़ ज्यादा होने की आशंका के चलते वे 24 सितम्बर की रात को ही पाली आ गए। उनका परीक्षा सेंटर पाली में हैं। बस स्टैंड पर बने टेंट में रूके। यहां लाइट की व्यवस्था नहीं होने से पंखें या कूलर नहीं लगे हुए थे। ऐसे में गर्मी व मच्छरों के कारण सोने में दिक्कत हो रही थी।

बीकानेर निवासी विकास जैन ने बताया कि वह दोपहर तीन बजे बीकानेर से रवाना हुए रात करीब 11 बजे पाली पहुंचे गए। भीड़ की संभावना के चलते वे 24 की रात को ही पाली आ गए। रोडवेज बस स्टैंड परिसर में लगे टेंट में अन्य अभ्यर्थियों को देख कर वे भी यहां रूके। लेकिन लाइट की सुविधा नहीं होने से मच्छरों के कारण परेशान होना पड़ृ रहा हैं। कुछ ऐसी ही समस्या डूंगरपुर से अपने पिता के साथ आई टीनारानी परमार ने बताया। उनका परीक्षा सेंटर सोजत आया हुआ हैं।

मुस्लिम मुसाफिर खाने के बाहर सदर हकीम भाई के साथ खड़े अभ्यर्थी। जिनकी रात में सोने की व्यवस्था यहां की गई।
मुस्लिम मुसाफिर खाने के बाहर सदर हकीम भाई के साथ खड़े अभ्यर्थी। जिनकी रात में सोने की व्यवस्था यहां की गई।
मुस्लिम मुसाफिर खाने सोते अभ्यर्थी।
मुस्लिम मुसाफिर खाने सोते अभ्यर्थी।

भास्कर ने निभाया सामाजिक सरोकार
REET अभ्यर्थियों की समस्या देखते हुए भास्कर टीम ने मुस्लिम समाज के सदर हकीम भाई से बात की। बाद में गाड़ियों से अधिकतर अभ्यर्थियों को मुस्लिम मुसाफिर खाने ले जाने की उन्होंने व्यवस्था की। जहां उनके सोने की व्यवस्था की गई। उन्होंने बताया कि सर्व धर्म के अभ्यर्थियों के लिए मुस्लिम समाज की ओर से यहां व्यवस्था की गई हैं। जिसमें परीक्षार्थियों को नाश्ता देने के साथ ही बाइक व कार से उनके परीक्षा सेंटर तक छोड़ने की व्यवस्था की गई हैं। उन्होंने बताया कि वर्तमान में करीब 150 अभ्यर्थी मुस्लिम मुसाफिर खाने में रूके हुए हैं।

अभ्यर्थी टीनारानी परमार, डूंगरपुर
अभ्यर्थी टीनारानी परमार, डूंगरपुर
अभ्यर्थी विकास जैन, बीकानेर
अभ्यर्थी विकास जैन, बीकानेर
अभ्यर्थी नरेशकुमार सैनी, अलवर
अभ्यर्थी नरेशकुमार सैनी, अलवर

49 परीक्षा केन्द्रों पर होगी रीट परीक्षा

राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट)-2021 26 सितम्बर को दो पारी में आयोजित की जाएगी। लेवल-2 की परीक्षा सुबह 10 बजे से 12.30 बजे तक लेवल-1 की परीक्षा 2.30 बजे से शाम 5 बजे तक 49 परीक्षा केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी। जिसमें से 18 परीक्षा केन्द्र राजकीय संस्थान में एवं 31 परीक्षा केन्द्र निजी शिक्षण संस्थान में निर्धारित है। 5 परीक्षा केन्द्र सोजत सिटी में, 5 परीक्षा केन्द्र फालना में, 3 परीक्षा केन्द्र जाडन में, 2 परीक्षा केन्द्र रोहट में, 2 परीक्षा केन्द्र गुन्दोज में तथा शेष 32 परीक्षा केन्द्र पाली शहर में स्थित है। 11 हजार 86 अन्य जिलों से पाली में परीक्षा देने आ रहे हैं तथा 10 हजार 235 अभ्यर्थी पाली जिले से अन्य जिलों में परीक्षा देने जाएंगे।

भास्कर अलर्ट – समस्या होने पर नियंत्रण कक्ष में कॉल करे अभ्यर्थी

परीक्षा देने आ रहे अभ्यर्थियों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े इसलिए प्रशासन व विभिन्न समाजों के लोग व्यवस्था में जुटे हैं। प्रशासन की ओर से एक नियंत्रण कक्ष भी स्थापित किया गया हैं। किसी तरह की कोई समस्या होने पर अभ्यर्थी 02932-252804 इस नम्बर पर संपर्क कर सकता हैं। नियंत्रण कक्ष 25 सितम्बर को सुबह 8 बजे से 26 सितम्बर को परीक्षा समाप्ति तक स्थापित किया रहेगा।

खबरें और भी हैं...