पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्कूल की छत का प्लास्टर गिरा:प्रिंसिपल रूम की टेबल पर रखा कांच टूटा, गनीमत रही कि कमरे में कोई नहीं था; वरना हो सकता था हादसा

पाली।11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
छत का प्लास्टर गिरने से प्राचार्य कक्ष छत से टूटा पड़ा प्लास्टर। फोटो - अनिल मारू - Dainik Bhaskar
छत का प्लास्टर गिरने से प्राचार्य कक्ष छत से टूटा पड़ा प्लास्टर। फोटो - अनिल मारू

मारवाड़ जंक्शन मुख्यालय के बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में गुरुवार को प्रिंसिपल रूम की छत का प्लास्टर अचानक गिर गया। जिसे प्रिंसिपल की टेबल पर लगा कांच चकनाचूर हो गया। गनीमत रही कि उस वक्त प्रिंसिपल रूम में नहीं थी वरना वे भी चोटिल हो सकती थी। मामले में स्कूल प्रिंसिपल का कहना हैं कि स्कूल सालों पुराना हैं। जिसको मरम्मत की दरकरार हैं। कई बार उच्चाधिकारियों को अवगत करवाया लेकिन स्कूल की मरम्मत को लेकर कोई कदम नहीं उठाया जा रहा हैं।

उपखंड मुख्यालय पर स्थित एकमात्र बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय प्रशासन की अनदेखी का शिकार हो रहा हैं। सालों पुराना विद्यालय भवन जर्जर हालत में हैं। पूर्व में भी स्कूल के कमरों की छतों का प्लास्टर गिरने की घटना हुई हैं। गुरुवार को विद्यालय में कोरोना महामारी के चलते छात्राएं तो नहीं थी लेकिन स्कूल स्टाफ जब स्कूल पहुंचा तो प्राचार्य कक्ष में छत का प्लास्टर प्राचार्य की टेबल पर गिरा मिला। प्लास्टर गिरने से टेबल पर रखा कांच टूट कर बिखर गया। गनीमत रही कि हादसे के वक्त प्राचार्य मौजूद नहीं थी वरना बड़ा हादसा हो सकता था।

वर्षों पुराना यह विद्यालय भामाशाओं ने बनाया कर भेंट किया था लेकिन अब सरकार ही इसकी सुध नहीं ले रही है । स्कूल की प्राचार्य मोहिनी मीणा ने बताया कि स्कूल प्रशासन द्वारा बार-बार उच्च अधिकारियों को अवगत कराने के बाद में भी इस विद्यालय की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा। मारवाड़ जंक्शन उपखंड मुख्यालय के मुख्यालय पर आया यह बालिका विद्यालय क्षेत्र का एक मात्र सीनियर बालिका विद्यालय है फिर भी प्रशासन यहां अनदेखी कर रहा। विद्यालय में मौजूद 18 कमरे पूरी तरह क्षतिग्रस्त हालत में हैं।

खबरें और भी हैं...