मंदिर के निकट दिखा लेपर्ड:नीलकंठ महादेव मंदिर में छुपकर बचाई जान, डर के मारे करीब एक घंटे बैठे रहे

सेंदड़ा (पाली)2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पाली जिले के सेंदड़ा के निकट रावली टॉडगढ़ अभ्यारण में स्थित नीलकंठ महादेव मंदिर के निकट तालाब पर लेपर्ड नजर आया। - Dainik Bhaskar
पाली जिले के सेंदड़ा के निकट रावली टॉडगढ़ अभ्यारण में स्थित नीलकंठ महादेव मंदिर के निकट तालाब पर लेपर्ड नजर आया।

पाली जिले के सेंदड़ा के निकट रावली टॉडगढ़ अभ्यारण में स्थित नीलकंठ महादेव मंदिर के निकट मंगलवार शाम को श्रद्धालुओं को लेपर्ड नजर आया। जिससे वे घबरा गए तथा भागर मंदिर जाकर छूप गए। करीब एक घंटे बाद वे मंदिर से निकले। जानकारी मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची तथा ग्रामीणों को सजग रहने के बात कही।

पाली जिले के सेंदड़ा के निकट रावली टॉडगढ़ अभ्यारण में स्थित नीलकंठ महादेव मंदिर।
पाली जिले के सेंदड़ा के निकट रावली टॉडगढ़ अभ्यारण में स्थित नीलकंठ महादेव मंदिर।

जानकारी के अनुसा पिछले चार-पांच दिनों से पैंथर मंदिर के आसपास चक्कर लगा रहा है। मंगलवार शाम को ब्यावर निवासी हरदेव सिंह व सुमन सिंह परिवार सहित नीलकंठ महादेव मंदिर दर्शन करने आए थे। जैसे ही वे कार से उतर कर मंदिर की तरफ पैदल निकले। उन्हें एक लेपर्ड कुछ ही दूरी पर नजर आया। जिससे घबराकर वे मंदिर में भागे। डर के मारे करीब एक घंटे तक मंदिर में ही बैठे रहे। इसकी जानकारी मिलने पर बुधवार को क्षेत्रीय वन अधिकारी राजेंद्र सिंह रावत ने अपनी टीम के साथ नीलकंठ महादेव मंदिर पहुंचे। उन्होंने क्षेत्र का मौका मुआयना किया। ग्रामीणों ने बताया कि निकट ही एक तालाब हैं जहां लेपर्ड पानी पीने अक्सर आता हैं। वन विभाग के अधिकारियों ने ग्रामीणों को सजग रहने की सलाह दी।