पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ट्रक मालिक व दाेस्ताें का कारनामा:कर्ज में डूबे आराेपी लखपति बनने का ख्वाब देख पुलिस काे गुमराह कर रहे थे, सीसीटीवी फुटेज से पकड़ाया झूठ

पाली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ट्रक मालिक गिरफ्तार, दाे अन्य आराेपियाें की तलाश में जुटी है पुलिस

साेजत पुलिस ने गत 22 नवंबर काे आग से जलकर नष्ट हुए रूई से भरे ट्रक के घटनाक्रम में कड़ी से कड़ी जाेड़ते हुए असलियत से पर्दा हटा कर इस क्राइम सीन काे अंजाम देने वाले तीन आराेपियाें के लखपति बनने के ख्वाब पर पानी फेर दिया।

रणसी गांव के आराेपी ट्रक मालिक हसन खान मिरासी ने अपने गांव के दाेस्त जीतू माली व बावरली गांव के रिश्तेदार हकीम मिरासी की मदद से जिस सफाई से लाखाें रुपए कीमत की रूई की गांठाें से भरा ट्रक चाेरी हाेने की कहानी गढ़ी। जिस तरीके से बिजली के ताराें के नीचे खड़ा कर ट्रक में आग लगाई थी। उससे एक बारगी ताे यही लगा कि ट्रक चाेरी कर भागने के दाैरान बिजली के ताराें में शाॅर्ट सर्किट से रूई की गांठाें से भरे ट्रक में आग लगने से यह हादसा हुआ हाेगा।

मगर पुलिस काे ट्रक मालिक द्वारा बताई क्राइम स्टाेरी व जले हुए ट्रक का क्राइम सीन गले नहीं उतरा। साेजत सीओ डाॅ. हेमंत जाखड़ व साेजत एसएचओ रामेश्वर भाटी की टीम ने कड़ी से कड़ी जाेड़ते हुए तहकीकात की ताे पता चला कि तीनाें आराेपियाें ने कर्ज से उबरने व लखपति बनने की मंशा से ही कहानी गढ़ी लिखी और क्राइम सीन काे अंजाम दिया।

दाेस्ताें ने चाेरी के हिस्से में भी किया दगा
साेची समझी साजिश के तहत ही तीनाें ने मेड़ता से करीब 20 लाख रुपए कीमत की रूई की 92 गांठें गुजरात तक पहुंचाने के लिए ट्रांसपाेर्टर से हासिल की। इनमें से 15 लाख रुपए कीमत की 69 गांठाें काे तीनाें आराेपियाें ने ब्यावर के व्यापारी कमल जैन काे 11 लाख रुपए में बेच दी, जबकि बाकी की 23 गांठाें समेत ट्रक में आग लगा दी, ताकि किसी काे शक नहीं हाे।

गांठें बेचने के बाद आराेपी हकीम व जीतू माली ने व्यापारी से 11 लाख रुपए लिए, लेकिन ट्रक मालिक काे 9 लाख रुपए में साैदा हाेने की बात कही। इन 9 लाख रुपए में से तीन-तीन लाख रुपए तीनाें आराेपियाें ने आपस में बांट लिए, जबकि बाकी के दाे लाख हकीम व जीतू ने अपने हिस्से में रख लिए।

ट्रक मालिक काे चाराें तरफ से था फायदा, दाेस्त ने भी लाखाें देने का वादा किया
असल में रणसी गांव के आराेपी ट्रक मालिक हसन खान मिरासी ने यह पुराना ट्रक 8 लाख रुपए के फाइनेंस पर लिया था, जबकि उस पर अन्य लाेगाें का करीब चार-पांच लाख रुपए का कर्ज भी बकाया था। यानी उस पर 10 से 12 लाख रुपए का कर्जा था।

रूई की गांठें बेचने से उसे 3 लाख रुपए नकद मिल गए, जबकि ट्रक में आग लगाने से बीमा क्लैम के रुप में उसे 6 से 7 लाख रुपए मिलने वाले थे और फाइनेंस के बकाया राशि से भी उसे छुटकारा मिलने वाला था। इसके अलावा जाे लाेग उससे उधारी मांग रहे थे। उसका मानना था कि उससे भी छुटकारा मिल जाएगा। उसने गांव के अपने दाेस्त जीतू माली व बावरली निवासी रिश्तेदार शातिर बदमाश हकीम मिरासी बीमा क्लैम राशि से भी बराबर हिस्सा देने का वादा किया था।

कहानी सुन व क्राइम सीन देख संदेह हाे गया था : थाना प्रभारी
^आराेपी ट्रक मालिक ने पुलिस काे बताया कि 22 नवंबर की देर 2 बजे साेजत के निकट एक हाेटल पर ट्रक खड़ा कर शाैच करने गया और जब लाैटा ताे ट्रक गायब था। हमने टाेल प्लाजा व हाइवे की हाेटलाें से सीसीटीवी फुटेज जुटाए ताे ट्रक आता-जाता नहीं दिखा। इससे संदेह गहरा गया कि ट्रक मालिक झूठ बाेल रहा था। दूसरे दिन 12 बजे धाकड़ी मार्ग पर ट्रक अधजली हालत में मिला, जाे बिजली लाइन के नीचे खड़ा था। इससे संदेह यकीन में बदल गया कि ट्रक मालिक ने झूठी कहानी बताई और पुलिस काे गुमराह करने के लिए बिजली के ताराें के नीचे खड़ा कर ट्रक में आग लगाई।
- रामेश्वर भाटी, थाना प्रभारी साेजत

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser