फंदे पर लटकी मिली थी बेटी:युवती के परिजन बाड़मेर से पाली एसपी दफ्तर पहुंचे, बोले- 3 महीने हो गए, बेटी के हत्यारे गिरफ्तार नहीं हुए

पाली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाड़मेर से पाली एसपी ऑफिस पहुंचे मृतका के परिजन। जो सीओ सिटी से मिले तथा हत्या की आशंका जताते हुए शेष आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। - Dainik Bhaskar
बाड़मेर से पाली एसपी ऑफिस पहुंचे मृतका के परिजन। जो सीओ सिटी से मिले तथा हत्या की आशंका जताते हुए शेष आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की।

बाड़मेर निवासी एक परिवार सोमवार को पाली एसपी ऑफिस पहुंचा। काफी इंतजार के बाद सीओ सिटी से मिले तथा अपनी बेटी की हत्या होने की बात कहते हुए मामले में शेष आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी बेटी की हत्या कर उसे फंदे पर लटकाया गया, जिसमें उसके पति के साथ उसका देवर व ननदोई भी शामिल हैं। सीओ सिटी निशांत भारद्वाज से उन्होंने मामले में शेष आरोपियों को गिरफ्तार करने की गुहार लगाई।

2 सितम्बर 2021 को सोजत के जोधपुरिया बास में 24 साल की पूजा पत्नी भूपेन्द्र जोशी का घर में फंदे पर शव लटका मिला था। पति-पत्नी में अनबन चल रही थी। वह कुछ दिन पहले ही पीहर से ससुराल आई थी। मामले में मृतका के भाई बाड़मेर के शिवनगर (सदर थाना) निवासी अनिल कुमार पुत्र ताराचंद भार्गव ने रिपोर्ट दी। जिसमें बताया कि उसकी बहन की शादी वर्ष 2017 में सोजत निवासी भूपेन्द्र से हुई थी।

रिपोर्ट में आरोप लगाया था कि दहेज के लिए उसकी बहन की हत्या की गई। रिपोर्ट में उन्होंने मृतका के पति भूपेन्द्र जोशी पुत्र मोतीलाल जोशी, उसके देवर वीरेन्द्र, ननदोई राजू पुत्र वासुदेव, ननद व सास को आरोपी बताया। मामले में पुलिस ने मृतका के पति भूपेन्द्र को गिरफ्तार कर लिया था। शादी के सात साल से भी कम हुए थे। ऐसे में दहेज हत्या का मामला दर्जकर जांच सीओ सिटी निशांत भारद्वाज को सौंपी गई थी। सोमवार को सीओ सिटी से मिल मृतका के परिजनों ने मामले में मृतका के ननदोई व देवर को गिरफ्तार करने की बात कही। उन्होंने कहा यह दोनों उसे परेशान करते थे। सीओ सिटी ने मामले में उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।