पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Pali
  • Specialist Will Come Out Of Medical College; Recognition Of Past Graduation Diploma, To Enter 46 Seats In First Year

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नवाचार:मेडिकल काॅलेज से निकलेंगे स्पेशलिस्ट; पाेस्ट ग्रेजुएशन डिप्लाेमा की मिली मान्यता, प्रथम वर्ष में 46 सीटाें पर देंगे प्रवेश

पाली3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पाली मेडिकल काॅलेज काे अब पाेस्ट ग्रेजुएशन डिप्लाेमा काेर्स की भी मान्यता मिल गई है। नेशनल बाेर्ड ऑफ एक्जामिनेशन नई दिल्ली, एनबीई ने 46 सीटाें पर प्रवेश की अनुमति दी है। इससे यहां मेडिकल काॅलेज में गायनिक, पीडियीट्रिक, टीबी चेस्ट, एनिस्थीशिया, ईएनटी और फैमेली मेडिसिन के स्पेशलिस्ट डाॅक्टर तैयार हाे सकेंगे।

इन 46 सीटाें पर एमबीबीएस के बाद नीट के माध्यम से विद्यार्थियाें काे प्रवेश दिया जाएगा। 2 साल की इनकी पढ़ाई हाेगी। हालांकि मेडिकल स्टूडेंट्इस काे पढ़ाने के लिए काॅलेज में अलग से स्टाफ नहीं लगाया जाएगा। काॅलेज में कार्यरत विशेषज्ञ स्टाफ काे ही इसकी जिम्मेदारी मिलेगी। पीजी डिप्लाेमा काेर्स की मान्यता के लिए दिसंबर 2020 में नेशनल बाेर्ड ऑफ एक्जामिनेशन नई दिल्ली की टीम द्वारा निरीक्षण किया गया था।

बुधवार काे मेडिकल काॅलेज काे गायनी विभाग में 10 सीट, पीडियाट्रिक विभाग में 6, टीबी चेस्ट विभाग में 4 , एनिस्थीशिया विभाग में 2, कान-कान-गला विभाग में 4 और फैमिली मेडिसिन विभाग में 20 सीटाें सहित कुल 46 सीटाें पर मान्यता दी गई। छह संकाय में ही प्रवेश की मान्यता प्रदान की गई है। ऑफ्थाे (नेत्र) व रेडियाे डायग्नाेसिस के लिए सीटाें पर प्रवेश की मान्यता नहीं दी है।

अब आगे क्या- 380 बेड के अस्पताल काे अब मिल सकेंगे विशेषज्ञ
मेडिकल काॅलेज काे देखते हुए रामासिया में 380 बेड का अस्पताल बनाया जा रहा है। यहां विशेषज्ञ डाॅक्टर्स की भी आवश्यकता पड़ेगी। पीजी डिप्लाेमा शुरू हाेने से अब अस्पताल के लिए भी अच्छे डाॅक्टर्स उपलब्ध हाे जाएंगे। प्रवेश प्रक्रिया जुलाई तक शुरू होने की उम्मीद है।

मई 2018 में पाली काे मेडिकल में मिली थी पहली साैगात, अब पीजी डिप्लाेमा भी
पाली काे मई 2018 में पहली बार मेडिकल के क्षेत्र में मेडिकल काॅलेज की साैगात मिली थी। पहले प्रथम वर्ष के लिए केवल 100 सीटें पर थी। बाद में नेशनल मेडिकल काउंसिल (एनएमसी) द्वारा 50 सीट बढ़ा कर 150 सीट कर दिया। इसके बाद काॅलेज में विशेषज्ञ डाॅक्टर्स का स्टाफ भी लगाया गया। स्टाफ काे देखते हुए अब पीजी डिप्लाेमा की भी मान्यता मिल गई।

एनबीई नई दिल्ली ने छह संकायाें में 46 सीटाें काे मान्यता दी है। दाे विभाग में स्टाफ की कमी के चलते मान्यता अभी नहीं मिली है। -डाॅ. केसी अग्रवाल, प्रिंसिपल, पाली मेडिकल काॅलेज

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें