20 लाख की लूट का मामला:बदले की आग में दीपक बना अपराधी, लूट का एक भी रुपया नहीं लगा हाथ, साथी बदमाश ले भागे

पाली22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पाली पुलिस की गिरफ्त में लूट की वारदात में शामिल हर्ष वैष्णव व दीपक वैष्णव। - Dainik Bhaskar
पाली पुलिस की गिरफ्त में लूट की वारदात में शामिल हर्ष वैष्णव व दीपक वैष्णव।

शहर में 29 अक्टूबर की दोपहर को चाकू की नौंक पर मस्तान बाबा के निकट दिनदहाड़े हुई 20 लाख रुपए की लूट के मामले में गिरफ्तार किए गए जोधपुर के कुड़ी थाना क्षेत्र निवासी हर्ष उर्फ अभिषेक वैष्णव को रविवार को सोजत में न्यायाधीश के समक्ष पेश किया जहां से उसे 11 नवम्बर तक पुलिस रिमांड पर सौंपा गया। पुलिस ने झीतड़ा के निकट से पीड़ित का मोबाइल, डायरी व उसे डराने के लिए उपयोग लिया गया चाकू बरामद किया हैं। मामले में गिरफ्तार किए गए दूसरे आरोपी बोमादड़ा का दीपक वैष्णव पांच दिन के रिमांड पर चल रहा हैं। मामले में बिलाड़ा का एक, ब्यावर के दो तथा एक आरोपी खारी बेरा पुरोहितान (लूणी) का फरार चल रहा हैं। जिसकी तलाश में टीमें जुटी हुई हैं।

सीओ सिटी निशांत भारद्वाज ने बताया कि लूट की साजिश रचने के मुख्य आरोपी सदर थाना क्षेत्र के बोमादड़ा गांव निवासी दीपक वैष्णव का पूर्व में कोई अपराधिक रेकर्ड सामने नहीं आया। नौकरी से निकाले जाने से खफा होकर उसने लूट की साजिश रची थी। जिसमें उसने अपने मामा के लड़के जोधपुर के हर्ष वैष्णव को शामिल किया ओर उसने अपने चार दोस्तों को इस वारदात को अंजाम देने के लिए अपने साथ शामिल किया। मर्डर के एक मामले में जोधपुर जेल में रहने के दौरान हर्ष की इनसे पहचान हुई थी।

तय साजिश के तहत दो बाइक पर ब्यावर से 29 अक्टूबर पर पाली आए। दीपक वैष्णव पहले से LIC ऑफिस के बाहर खड़ा था। जैसे ही CMS इन्फो सिस्टम कम्पनी का डिलेवरी बॉय विकास जीनगर रुपयों से भरा बैग लेकर LIC ऑफिस से मस्तान बाबा के निकट स्थित एक बैंक में जमा करवाने निकला उसने अपने साथियों को कॉल कर दिया। दो बाइक पर चार बदमाशों ने उसका पीछा किया तथा विवेकानंद सर्किल से मस्तान बाबा की तरफ जाने वाली गली में उसे रोका तथा चाकू की नोंक पर 20 लाख से अधिक रुपयों से भरा बैग लूटकर फरार हो गए थे।

झीतड़ा में किया बंटवारा, दीपक को कुछ नहीं दिया
सभी आरोपी बाइक से झीतड़ा पहुंचे। यहां उन्होंने एक सूनसान खेत में आगे फरार होने को लेकर चर्चा की। जोधपुर के हर्ष उर्फ अभिषेक वैष्णव को पौने छह लाख रुपए दिए तथा शेष राशि अपने साथ ले गए। शातिर बदमाशों ने दीपक को कुछ नहीं दिया बोले की तुम्हें बाद में रुपए दे देंगे। यहां से सभी अलग-अलग हो गए। बिलाड़ा से बस में बैठकर हर्ष अहमदाबाद अपने ससुराल चला गया तथा दीपक वापस अपने घर बोमादड़ा आ गया। वारदात में शामिल बिलाड़ा का डीके, ब्यावर के दो आरोपी व 1 आरोपी खारा बेरा पुरोहितान (लूणी) भी वहां से अलग-अलग हो गए। जिनकी पुलिस तलाश में जुटी हैं।

खेत पर छुपा रहा दीपक
मामले के आईओ कमरुद्दीन ने बताया कि लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद दीपक वैष्णव बोमादड़ा आने के बाद अपने घर नहीं जाकर अपने खेत में छुपा रहा। पुलिस ने कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए दीपक को उसके खेत से दस्तयाब कर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने लूट की साजिश रचना कबूल कर दिया। जिस पर उसे गिरफ्तार किया तथा उसके पूछताछ के आधार पर हर्ष वैष्णव को अहमदाबाद से गिरफ्तार

पुलिस अहमदाबाद पहुंची तो भागा पीछा कर पकड़ा
लूट में शामिल जोधपुर के कुड़ी थाना क्षेत्र निवासी हर्ष वैष्णव वारदात के बाद अपना बंटवारा लेकर अहमदाबाद अपने ससुराल चला गया। जिसकी तलाश में एक टीम अहमदाबाद गई। लेकिन वहां से वह फरार हो गया। पीछा करते हुए टीम वापस जोधपुर पहुंची तथा उसे जोधपुर के निकट एक गांव से दस्तयाब किया। जिसने बताया कि लूट की इस वारदात में उसके बोमादड़ा निवासी दीपक के अलावा साथ ब्यावर के 2, बिलाड़ा का 1 व खारा बेरा पुरोहितान (लूणी) का 1 आरोपी भी शामिल था। जिनसे जोधपुर जेल में रहने के दौरान उसकी पहचान हुई थी। झीतड़ा में बंटवारा करने के बाद सभी आगे अपने-अपने रास्ते निकल गए।

यह हैं मामला
29 अक्टूबर को विवेकानंद सर्किल से मस्तान बाबा की तरफ जाने वाली गली में CMS कम्पनी के डिलेवरी बॉय विकास जीनगर को दो बाइक पर आए चार बदमाशों ने रोका तथा 20 लाख रुपयों से भरा बैग लेकर फरार हो गए। CCTV फुटेज, मुखबिरों से मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने लूट की साजिश रचने वाले मुख्य आरोपी पाली के सदर थाना के बोमादड़ा निवासी 28 वर्षीय दीपक वैष्णव पुत्र मिश्रीलाल वैष्णव व उसके मामा के लड़के जोधपुर के कुड़ी भकतासनी हाउसिंग बोर्ड पीली टंकी केपास (कुड़ी थाना) निवासी 25 वर्षीय हर्ष उर्फ अभिषेक वैष्णव पुत्र कल्याणदास वैष्णव को गिरफ्तार किया। मामले में बिलाड़ा का 1, ब्यावर के 2 व खारा बेरा पुरोहितान का 1 आरोपी फरार चल रहा हैं। जिनकी तलाश जारी हैं।

खबरें और भी हैं...