• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Pali
  • The House Was Locked From Outside, The Local People Called The Police After The Smell, The Sensation Spread In The Village After Seeing The Dead Body

VIDEO: बंद मकान में मिले दो शव, हत्या की आशंका:बदबू आई तो पुलिस पहुंची, दरवाजा खोला तो मां-बेटी के सड़े-गले शव मिले, FSL टीम पहुंची

कंटालिया/ मारवाड़ जंक्शन (पाली)2 महीने पहले
पाली जिले के कंटालिया गांव (बगड़ी नगर) में रविवार रात को बंद मकान में 75 वर्षीय अमरतीदेवी प्रजापत व उसकी 38 वर्षीय दिव्यांग बेटी ऊकिया देवी उर्फ उकड़ी देवी का शव मिला। - फाइल फोटो

पाली जिले के बगड़ी नगर थाना क्षेत्र के कंटालिया गांव में एक बंद मकान में मां-बेटी के शव मिलने से सनसनी फैल गई। अंदर से बदबू आने पर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। ताला तोड़ पुलिस अंदर गई तो मां-बेटी के शव अलग-अलग पड़े मिले। शव करीब चार-पांच पुराने थे। जिससे सड़-गल गए थे। पुलिस की प्रारंभिक जांच में हत्या की आशंका जताई जा रही हैं। फिलहाल यथा स्थिति शवों को रखा गया हैं। सोमवार सुबह एफएसएल टीम मौके पर पहुंची तथा जांच शुरू की। ASP विपिन कुमार शर्मा पर मौके पर पहुंचे।

पाली जिले के कंटालिया गांव घर की रसोई में पड़ा मृतका अमरतीदेवी का शव।
पाली जिले के कंटालिया गांव घर की रसोई में पड़ा मृतका अमरतीदेवी का शव।

सोजत सीओ डॉ हेमंत जाखड़ ने बताया कि रविवार देर शाम को कंटालिया के कुछ ग्रामीणों ने बगड़ी नगर थाने में कॉल किया तथ बताया कि कुम्हारों के मोहल्ले में एक बंद मकान से बदबू आ रही हैं। सूचना पर बगड़ी नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। ताला तोड़ अंदर देखा तो रसोई में 75 वर्षीय अमरतीदेवी पत्नी खीवाराम प्रजापत तथा कमरे में मृतका की 40 वर्षीय दिव्यांग बेटी ऊकिया देवी उर्फ उकड़ी देवी पत्नी मंगलाराम प्रजापत का शव पड़ा मिला। मौके पर पुलिस को फर्श पर खून से सने पैरों के निशान भी मिले हैं। पुलिस की प्रारंभिक जांच में मां-बेटी की हत्या आशंका जताई जा रही हैं। जानकारी के अनुसार एक-दो तारीख के बाद मोहल्लेवासियों ने मां-बेटी को नहीं देखा था। उन्हें लगा जैसे दोनों शादी में गए हुए होंगे।

पाली जिले के कंटालिया गांव (बगड़ी नगर थाना) गांव में मृतका के घर के बाहर लगी ग्रामीणों की भीड़।
पाली जिले के कंटालिया गांव (बगड़ी नगर थाना) गांव में मृतका के घर के बाहर लगी ग्रामीणों की भीड़।

रसोई में मां का, कमरे में बेटी का मिला शव
मां-बेटी के शव अंदर घर में पड़े थे तथा मुख्य दरवाजे पर ताला लगा हुआ था। घर में रसोई में अमरती देवी व कमरे में उनकी बेटी ऊकियादेवी का शव पड़ा मिला। रसोई में अमरतीदेवी के शव के निकट आटा पड़ा मिला। संभवत वह उस समय रोटी बना रही थी। पुलिस के अनुसार शव करीब 4-5 दिन पुराने हैं। एफएसएल टीम की जांच के बाद शवों को अस्पताल ले जाने की कार्रवाई की जाएगी।

पाली के कंटालिया गांव (बगड़ी नगर) में सोमवार सुबह मौके पर एफएसएल टीम पहुंची तथा जांच शुरू की।
पाली के कंटालिया गांव (बगड़ी नगर) में सोमवार सुबह मौके पर एफएसएल टीम पहुंची तथा जांच शुरू की।

शादी के बाद नहीं हुआ बच्चा
जानकारी के अनुसार 40 वर्षीय मृतका रूकियादेवी प्रजापत की शादी सवराड़ गांव के मंगलाराम प्रजापत से हुई थी। वह पिछले कुछ समय से वह पीहर में ही थी। शादी के बाद उसे बच्चा नहीं हुआ था। पति-पत्नी के बीच मनमुटाव की बात भी सामने आई हैं। मृतका अमरती देवी के कोई बेटा नहीं होने पर उन्होंने अपने जेठ के बेटे रमेश प्रजापत को गोद ले रखा था। जो बैंगलोर में कपड़े की दुकान पर काम करता हैं।

बस से नीचे गिरने से हो गई दिव्यांग
जानकारी के अनुसार मृतका रूकिया देवी सालों पहले रावण दहन देखने सोजत रोड जा रही थी। इस दौरान रास्ते में बस से नीचे गिर गई। जिससे उसके पैर में चोट लगने से घाव हो गया। जो बाद में गैगरीन का रूप ले लिया। ऐसे में उसे अपना पैर कटवाना पड़ा था।