पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Pali
  • The Sons Woke Up After Hearing The Screams In The House, Saw The Father Cutting The Mother's Neck With A Knife, The Incident At 6 Am In Bajrang Bari

शराब के नशे में बेरहमी से पत्नी की हत्या:घर में चीखें सुनकर उठे बेटाें ने देखा...चाकू से मां की गर्दन काट रहा था पिता, बजरंग बाड़ी में सुबह 6 बजे की घटना

पाली6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिस पति के लिए खाना बनाने घर आई, उसी ने बेरहमी से कर दिया कत्ल। रसोई में आटा लगी परात के पास महिला की हत्या के बाद बिखरा पड़ा खून। - Dainik Bhaskar
जिस पति के लिए खाना बनाने घर आई, उसी ने बेरहमी से कर दिया कत्ल। रसोई में आटा लगी परात के पास महिला की हत्या के बाद बिखरा पड़ा खून।

शहर के मस्तान बाबा इलाके से सटे बजरंग बाड़ी इलाके में बुधवार काे सनसनीखेज मामला सामने आया। शराब के नशे में सुबह करीब पाैने 6 बजे 45 साल के ताराराम ओड ने बड़ी बेरहमी से चाकू से पत्नी ऊषा (38) की गर्दन काट दी। घटना के समय ऊषा आटा गूंथ रही थी। चीखें सुनकर दाेनाें बेटे जागे ताे उन्हाेने देखा कि मां काे नीचे पटककर पिता चाकू से गर्दन काट रहा था। बच्चाें काे देख ताराराम वहां से भाग गया।

लाेगाें की मदद से ऊषा काे बांगड़ अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक उसने दम ताेड़ दिया। घटना के कुछ देर बाद ही काेतवाली पुलिस ने आराेपी ताराचंद काे गिरफ्तार कर लिया। काेतवाल गाैतम जैन ने बताया कि मंगलवार रात काे आराेपी ताराराम ने नशे में ऊषा से झगड़ा किया ताे मारपीट के डर से वह मस्तान बाबा इलाके में अपनी मा के घर चली गई। बुधवार काे परिवार के लिए खाना बनाकर ऊषा काे मजदूरी पर जाना था। इसलिए वह सुबह-सुबह ही घर चल गई और आटा गूंथने लगी। इसी दाैरान ताराचंद पीछे से आया और पत्नी की गर्दन काट दी।

दाेनाें बेटे सूरज और आकाश चीखें सुनकर उठे ताे देखा कि मां काे नीचे लिटाकर पिता उनकी गर्दन काट रहे थे। उन्हें देख ताराराम वहां से भाग गया। मस्तान बाबा इलाके में अपनाघर के पीछे बैठकर शराब पी और नदी के रास्ते ही बापू नगर, इंद्रा काॅलाेनी हाेते हुए नया गांव मार्ग की ओर पहुंचा। घटना की सूचना पाकर सीओ सिटी निशांत भारद्वाज, काेतवाल गाैतम जैन टीम के साथ माैके पर पहुंचे और आराेपी काे गिरफ्तार कर लिया। आराेपी ने घटना में इस्तेमाल चाकू कहीं पर फेंक दिया, जाे अभी पुलिस के हाथ नहीं लगा है।

चश्मदीद : दाेनाें बेटाें की जुबानी

पापा मुझे देख भाग गए

रात काे पापा ने शराब पीकर मम्मी से झगड़ा किया ताे वह नानी के घर चली गई। पापा नशे में थे। उन्हाेंने हमें धमकाकर कमरे में सुला दिया और खुद रात तक शराब पीते रहे। सुबह मम्मी की चीख से मेरी नींद खुली। देखा ताे मम्मी फर्श पर बेहाेश पड़ी थी और पापा चाकू से मम्मी की गर्दन काट रहे थे। मैंने छाेटे भाई आकाश काे जगाया ताे पापा के हाथ में चाकू देख वह भी घबरा गया। हमें देख पापा भाग गए। मम्मी काे बचाने के लिए हमने लाेगाें काे बुलाया। मम्मी काे अस्पताल ले गए, लेकिन तब तक वह दुनिया में नहीं रही।

-सूरज, मृतका का 17 वर्षीय बड़ा बेटा

मम्मी काे राेज पीटते थे
रोते हुए आकाश ने पुलिस काे बताया कि पापा कमाते नहीं थे और कमठाने पर भी कभी-कभी जाते थे। रोज शराब पीकर मां से झगड़ा करते थे। मम्मी से जबरदस्ती पैसे लेकर पापा शराब पीकर घर आते और राेजाना मम्मी से झगड़ा करते, मारपीट भी करते। एक दिन पहले भी रात काे मम्मी से झगड़ा करने लगे। मारपीट से डर कर मम्मी मस्तान बाबा पर नानी के घर गई हुई थी। सुबह सूरज भैय्या ने राेते हुए मुझे उठाया ताे मम्मी नीचे पड़ी थी और गर्दन से खून बह रहा था। हमने देखा कि पापा चाकू लेकर मम्मी की गर्दन काट रहे थे।

- आकाश, मृतका का 15 वर्षीय छाेटा बेटा

हत्या के आराेप में पहले भी जेल जा चुका है ताराचंद

पुलिस छानबीन में पता चला है कि आराेपी ताराराम दस साल पहले अहमदाबाद में परिवार के साथ रहता था। कुछ साल पहले मांस बेचने काे लेकर उसका किसी ग्राहक से झगड़ा हुआ ताे उसने छुर्रा घाेंप उसकी हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल में भेज दिया ताे उसकी पत्नी तीनाें बच्चाें काे लेकर पाली में अपने पीहर आकर रहने लगी। जेल से छूट कर आराेपी भी पाली आ गया।

अत्यधिक शराब पीने के कारण अक्सर दाेनाें में तकरार हाेती थी। पति-पत्नी दाेनाें यहां मकान निर्माण कार्य में मजदूरी करते थे। उनके दाे बेटे 17 साल का सूरज व 15 साल का आकाश उनके साथ रहते है, जबकि 12 साल की बेटी वर्षा अहमदाबाद में माैसी के पास रहती है।

खबरें और भी हैं...