भास्कर खास / लक्षण नहीं थे, फिर भी रिपोर्ट आई पॉजिटिव आत्मविश्वास से सभी ने कोरोना को हराया

There were no symptoms, yet reports came with positive confidence that everyone beat Corona
X
There were no symptoms, yet reports came with positive confidence that everyone beat Corona

  • 76 वर्ष वर्षीय गीता तीन दिन में ही ठीक हुई, चार सदस्यों काे 15 से 20 दिन लगे

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 07:42 AM IST

पाली. एक ही घर के पांच सदस्यों की रिपोर्ट काेराेना पॉजिटिव आ जाती है ताे पूरा परिवार सहम जाता है। यहीं हाल नाडी मोहल्ला निवासी लक्ष्मी नारायण उपाध्याय परिवार के थे। 74 वर्षीय लक्ष्मी नारायण ने बताया कि मोहल्ले में चिकित्सा विभाग की टीम रैडम सैंपलिंग कर रही थी ताे लाेगाें काे देखकर घर के सभी सदस्यों की सैंपलिंग करवाई।

काॅलाेनी में कई पॉजिटिव मरीज आ चुके थे। इससे मन में डर बना हुआ। 22 अप्रैल काे ली गई सैंपलिंग में लक्ष्मी नारायण और 76 वर्षीय गीता उपाध्याय की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। जिन्हें चिकित्सा विभाग की टीम ने  काेराेना वार्ड में भर्ती कर दिया।

साथ ही पूरे परिवार काे घर में क्वारिन्टाइन कर दिया। दाे दिन बाद जब घर के सभी सदस्य बैठ कर बात कर रहे थे ताे चिकित्सा विभाग से फाेन आया कि तीन और पॉजिटिव है ताे पूरा परिवार ही सहम गया। टीम ने घनश्याम उपाध्याय, अशोक उपाध्याय और जयश्री उपाध्याय तीनों काे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया।

काेराेना के लक्षण नहीं हाेने से अस्पताल में भर्ती घर के किसी भी व्यक्ति काे घबराहट नहीं थी। नर्सिंग कर्मचारियों काे भी पूरा सहयोग और भगवान पर पूरा विश्वास हाेने के कारण सभी लाेग 15 से 20 दिन में ठीक हाे गए। 

पांचवीं बार सभी के सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आने पर ली राहत की सांस

 गीता उपाध्याय की उम्र 76 साल हाेने के बाद भी दूसरे सदस्यों से पहले ठीक हाेकर और काेराेना की जंग जीत घर पहुंची। जिनका घर के सदस्यों ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। लेकिन घर के 4 सदस्य और अस्पताल में भर्ती हाेने के कारण एक तरफ उनकी चिंता भी सता रही थी।

74 वर्षीय लक्ष्मीनारायण और जयश्री उपाध्याय की चार बार रिपोर्ट पॉजिटिव आने के कारण पूरा परिवार डरा हुआ था। लेकिन  जब पांचवी बार सैंपलिंग की गई ताे सभी की रिपाेर्ट निगेटिव अा गई। इसके बार पूरे परिवार ने चैन की सांस ली।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना