पंचर निकालने से मना करने पर हमला करने का मामला:दो वृद्धों के हाथ-पैर तोड़ने के तीन आरोपी गिरफ्तार, शेष की तलाश जारी

पाली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मामले में तीन-चार आरोपी फरार हैं जिनकी तलाश जारी हैं। - Dainik Bhaskar
मामले में तीन-चार आरोपी फरार हैं जिनकी तलाश जारी हैं।

मारवाड़ जंक्शन थाने के मुक्तिधाम के निकट स्थित भैरूचौक में दो वृद्धजनों पर लाठियों-सरियों से हमलाकर उनके हाथ-पैर तोड़ने के मामले में मारवाड़ जंक्शन थाना पुलिस ने बुधवार को तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया। मामले में तीन-चार आरोपी फरार चल रहे हैं। जिनकी तलाश जारी हैं।

मारवाड़ जंक्शन थानाप्रभारी मोहनसिंह ने बताया कि मामले में दूदौड़ निवासी जस्साराम व मोडाराम पुत्र जस्साराम बावरी व खारड़ा (सदर) निवासी पप्पूराम पुत्र भंवरलाल बावरी को बुधवार दूदौड़ क्षेत्र से गिरफ्तार किया। मामले में तीन-चार आरोपी फरार हैं जिनकी तलाश जारी हैं।

ज्ञात रहे कि 62 वर्षीय पारसनाथ भैरूचौक में पंचर की दुकान संचालित करता हैं। दो-तीन दिन पहले एक युवक शराब के नशे में बाइक का पंचर निकलवाने आया था। जिस पर पारसनाथ के बेटे ने पंचर निकालने की बात पर तकरार हो गई। इसका बदला लेने के लिए युवक सोमवार देर शाम का वापस अपने दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ पंचर की दुकान पर आया। पारसनाथ का बेटा नहीं मिला तो उन्होंने पारसनाथ के लाठियों-सरियों से मारपीट की। दुकान पर बैठे 75 वर्षीय इस्माइल खान ने बचाने का प्रयास किया तो उनसे भी बदमाशों ने मारपीट की। जिसमें 62 वर्षीय पारसनाथ पुत्र प्रेमनाथ नाथ व 75 वर्षीय इस्माइल खान पुत्र अल्लानुर गंभीर रूप से घायल हो गए। जिस पर दोनों को प्राथमिक उपचार के बाद रेफर किया गया था। मामला दर्ज होने पर पुलिस ने बुधवार को तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया। मामले में शेष आरोपियों की तलाश जारी हैं।

शराब की अवैध ब्रांच को लेकर क्षेत्रवासियों में विरोध
मोहल्लेवासियों ने मुक्तिधाम के निकट संचालित हो रही शराब की अवैध ब्रांच को लेकर विरोध है। उनका कहना हैं कि शराब की दुकान के पास शराबियों का जमावड़ा लगा रहता हैं। कई शराबी पास में ही बैठ कर शराब पीते हैं। कई बार आपस में झगड़ जाते हैं तथा गाली-गलौच तक करते हैं। लेकिन सबकुछ जानते हुए भी पुलिस व आबकारी विभाग के जिम्मेदार अधिकारी इस अवैध ब्रांच को हटवाने की कार्रवाई नहीं कर रहे। जिसका नुकसान क्षेत्रवासियों को उठाना पड़ रहा हैं।

खबरें और भी हैं...