• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Pali
  • When The CMS Company Was Fired, The Conspiracy Was Hatched, The Search For The Remaining Two Accused Came In The Hold.

पाली में 20 लाख की लूट का राज खुला:रुपयों में हेराफेरी करने पर कम्पनी ने निकाला तो रची लूट की साजिश, दो आरोपी गिरफ्तार, शेष की तलाश जारी

पाली24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पाली के कोतवाली थाना पुलिस की गिरफ्त में लूट के आरोपी। हर्ष वैष्णव (बापर्दा) व दूसरा दीपक वैष्णव। - Dainik Bhaskar
पाली के कोतवाली थाना पुलिस की गिरफ्त में लूट के आरोपी। हर्ष वैष्णव (बापर्दा) व दूसरा दीपक वैष्णव।

शहर में 29 अक्टूबर की दोपहर को चाकू की नौंक पर मस्तान बाबा के निकट दिनदहाड़े हुई 20 लाख रुपए की लूट के मामले में पाली पुलिस ने बड़ी कामयाबी हासिलकर दो आरोपियों को पकड़ा हैं। मामले में चार आरोपी फरार चल रहे हैं। जिनकी तलाश जारी हैं। मामले में साजिश रचने के मुख्य आरोपी दीपक वैष्णव को शनिवार को न्यायाधीश के समक्ष पेश किया। जहां से उसे 5 दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा गया हैं तथा दूसरे आरोपी हर्ष को रविवार को पुलिस न्यायाधीश के समक्ष पेश करेगी।

पाली शहर के रामदेव रोड दुर्गा कॉलोनी निवासी विकास जीनगर। जिसके साथ लूट की वारदात हुई थी। - फाइल फोटो।
पाली शहर के रामदेव रोड दुर्गा कॉलोनी निवासी विकास जीनगर। जिसके साथ लूट की वारदात हुई थी। - फाइल फोटो।

SP राजन दुष्यंत ने बताया कि CMS इन्फो सिस्टम कम्पनी में पाली जिले के बोमादड़ा गांव निवासी दीपक वैष्णव काम करता था। रुपयों की हेराफेरी के आरोप के चलते उसे कम्पनी ने निकाल दिया तथा उसकी जगह विकास जीनगर (चौहान) को रखा। नौकरी से निकाले जाने से दीपक वैष्णव कम्पनी के अधिकारियों से नाराज था तथा कम्पनी को नुकसान पहुंचाने की नीयत से अपने जोधपुर निवासी अपने मामा के लड़के हर्ष वैष्णव से संपर्क किया। जो पूर्व में हत्या के मामले में जोधपुर जेल में रह चुका हैं। उसने लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए जेल में रहने के दौरान संपर्क में आए अपने चार दोस्तों से चर्चा की तथा सभी ने मिलकर लूट की वारदात को अंजाम देना तय किया। तय साजिश के तहत 29 अक्टूबर को दो बिना नम्बर की बाइक पर सवार होकर ब्यावर से पाली आए तथा तय स्थान पर मिले। दीपक वैष्णव LIC ऑफिस के सामने खड़ा रहा। जैसे ही रुपयों से भरा बैग लेकर विकास जीनगर निकला उसने कॉलकर अपने साथियों को जानकारी दे दी। दो बाइक पर 4 जने सवार होकर विकास के पीछे लग गए तथा विवेकानंद सर्किल से मस्तान बाबा की तरफ जाने वाली गली में विकास को रोका तथा चाकू से डराकर 20 लाख रुपयों से भरा बैग लेकर फरार हो गए। CCTV फुटेज, मुखबिरों से मिली सूचना के आधार पर पुलिस लूट की साजिश रचने वाले मुख्य आरोपी पाली के बोमादड़ा निवासी (सदर थाना) 28 वर्षीय दीपक वैष्णव पुत्र मिश्रीलाल वैष्णव व उसके मामा के लड़के जोधपुर के कुड़ी भकतासनी हाउसिंग बोर्ड पीली टंकी केपास (कुड़ी थाना) निवासी 25 वर्षीय हर्ष उर्फ अभिषेक वैष्णव पुत्र कल्याणदास वैष्णव को गिरफ्तार किया। जिन्हें शनिवार को न्यायाधीश के समक्ष पेश किया जहां से उन्हें पुलिस रिमांड पर सौंपा गया।

यह हैं मामला
शहर के रामदेव रोड दुर्गा कॉलोनी निवासी विकास जीनगर (25) पुत्र पूनमचंद जीनगर सीएमएस नाम की एक कंपनी में कैश कलेक्शन का काम करता है। यह कंपनी एलआईसी, कॉरियर आदि कंपनियों से रुपए इकट्ठा कर उन्हें बैंक में जमा करवाने का काम करती है। इसको लेकर कम्पनी का बैंक से अनुबंध हो रखा हैं। 29 अक्टूबर 2021 की दोपहर को विकास दोपहर 12:10 बजे मंडिया रोड स्थित एलआईसी ऑफिस से 20 लाख रुपए बैग में भरकर मस्तान बाबा स्थित एक्सिस बैंक में जमा करवाने जा रहा था। इस दौरान 2 बाइक पर आए 4 युवकों ने उसे आगे-पीछे बाइक लगाकर उसे विवेकानंद सर्किल से मस्तान बाबा की तरफ जाने वाली गली में 12:15 बजे रोका तथा चाकू की नोंक पर 20 लाख रुपयों से भरा बैग लूटकर महज एक मिनट में फरार हो गए। रुपए से भरे बैग में युवक का मोबाइल भी था।