2 साल से अपने पति को तलाश रही महिला:माता-पिता से मिलने गया था, बोली पुलिस नहीं कर रही मदद

पाली।17 दिन पहले
पीड़िता संतोषदेवी जिनके पति दो साल से लापता हैं।

आंखों में आंसू लिए पिछले दो साल से पांच बच्चों की मां कभी थाने तो कभी एसपी ऑफिस तो कभी जिला कलेक्टर के ऑफिस के चक्कर काट परेशान हो रही है। आखिर करें भी क्या थाने में रिपोर्ट दे दी, लेकिन अभी तक उसे अपने लापता पति के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल रही। रोते हुए बोली जिंदा हैं या मर गए पुलिस उनका पता तो लगाए। कब तक मैं ऐसे भटकती रहूंगी। पांच बच्चों को दो वक्त का भोजन देने में भी परेशानी हो रही है। ससुराल वाले साथ नहीं दे रहे और पुलिस लापता पति को ढूंढ नहीं रही। अब कहां जाऊं। इतना कहते ही उसकी आंखों से आंसू छलक गए।

हम बात कर रहे हैं सिरोही जिले के पिण्डवाडा हाल मुंडारा निवासी निवासी 38 वर्षीय संतोषदेवी की। 10 अक्टूबर 2020 का दिन उनके लिए परेशानियों का पिटारा लेकर आया। संतोष देवी का पति सहदेव राव अपने माता-पिता से मिलने की बात कहकर पाली जिले के दयालपुरा गांव रवाना हुआ था, लेकिन आज तक घर नहीं लौटा। महिला का आरोप है कि उसके ससुराल वाले भी उसकी मदद नहीं कर रहे। पति को ढूंढने में अब वह पांच बच्चों को लेकर कहां जाए। सदर थाने में उसने पति की गुमशुदगी भी दर्ज कराई लेकिन कुछ नहीं हुआ।

पढ़ाई की उम्र में बच्चे झाडूं-पौछा करने को मजबूर
संतोष देवी ने बताया कि पित का कोई अता-पता नहीं हैं। पांच बच्चों को पेट पालना उनके लिए काफी मुश्किल हैं। वे खुद काम पर जाती हैं। बेटियों को पढ़ाई की उम्र में लोगों के घर जाकर झाडूं पौछा करना पड़ रहा हैं। लेकिन अभी तक पति का कोई सुराग पुलिस नहीं ढूंढ सकी।