सांप से खेलता था युवक, उसी के डसने से मौत:खेत में आए कोबरा को पकड़कर छोड़ने जा रहा था, वीडियो बनाने के चक्कर में डंसा; 19 साल की उम्र में 200 सांप पकड़ चुका था

पालीएक वर्ष पहले
सांप को नदी में छोड़ता मनीष।

जहरीले सांप पकड़ने वाले एक युवक की सांप के डंसने से ही मंगलवार को मौत हो गई। युवक 19 साल की उम्र तक करीब 200 सांप पकड़ चुका था। वह सांपों को अपना दोस्त समझता था और उनके साथ खेलता था। वह सापों को पकड़कर सुरक्षित स्थान पर छोड़ देता था। मंगलवार को नदी में जहरीले कोबरा को छोड़ने के दौरान उसे काट लिया। इससे उसकी मौत हो गई।

19 साल का मनीष वैष्णव पाली के शेखावत नगर में रहता था। पिता की कुछ साल पहले बीमारी से मौत हो गई थी। घर की जिम्मेदार मां कांता देवी के कंधों पर थी। मनीष एक फैक्ट्री में काम करता था। मोहल्ले में एक बार सांप आाय तो उसने हिम्मत कर पकड़ लिया। इसके बाद उसने सांप को पकड़कर जंगल में छोड़ दिया। धीरे-धीरे वह सांप को पकड़ने में एक्सपर्ट हो गया। शहर में किसी भी घर में सांप घुसता तो मनीष के पास कॉल आ जाता था। बिना कोई चार्ज लिए मनीष लोगों के घर से सांप पकड़कर उन्हें सुरक्षित स्थान पर छोड़ देता था। उसके इस शौक ने काफी लोगों को राहत देने का काम किया।

वीडियो बनाते वक्त सांप ने काटा

मनीष ने मंगलवार को एक खेत में सांप पकड़ लिया था। जिसे, पकड़कर शेखों की ढाणी की तरफ नदी में छोड़ने गया। युवक सांप का वीडियो बनाने लगा। इस दौरान सांप ने काट लिया। कुछ देर बाद उसकी तबीयत बिगड़ने लगी। परिजन पहले उसे स्थानीय हॉस्पिटल लेकर गए, जहां उसे जोधपुर रेफर किया गया। लेकिन, रास्ते में उसकी मौत हो गई।

सोशल मीडिया पर उसके कई वीडियो मौजूद

सांप को पकड़कर उसे सुरक्षित जंगल में छोड़ने के कई वीडियो मनीष के सोशल मीडिया पर हैं। जिसमें वह लोगों को सांप को पकड़ने के दौरान सावधानियां बरतने की हिदायत देता नजर आता है।

परिवार में सबसे छोटा था मनीष

मनीष से बड़ी उसकी बहन संगीता व भाई प्रवीण है। तीन भाई बहनों में वह सबसे छोटा था। मंगलवार को सांप के काटने से उसकी मौत हो गई। इससे परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया।

खबरें और भी हैं...