रायपुर में महिलाओं को 100 न्यूट्री किट वितरण:50 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व 26 किसान महिलाओं ने लिया भाग

रायपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रायपुर के कृषि विज्ञान केंद्र पर पोषणवाटिका महाअभियान एवं वृक्षारोपण के कार्यक्रम का आयोजन किया गया। केंद्र सरकार द्वारा चलाए जा रहे प्रमुख कार्यक्रम पोषण माह अभियान में बच्चों, किशोरियों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए पोषण संबंधी परिणामों को लेकर जानकारी दी गई।

केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ. महेंद्र सिंह चांदावत ने बताया कि आज हमारा देश खाद्यान्न उत्पादन में न केवल आत्मनिर्भर है, बल्कि सर प्लस उत्पादन का निर्यात भी कर रहा है। परन्तु अब उपयुक्त समय है, जब लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए पोषण अनाज के ऊपर ध्यान दिया जाए। ताकि देश के नागरिकों को पोषण युक्त खाद्यान्न सुनिश्चित हो सके। पोषण (प्रधानमंत्री समग्र पोषण के लिए व्यापक योजना) अभियान कुपोषण की समस्या और पते की ओर देश का ध्यान निर्देशित करता है। यह एक मिशन-मोड में है।

साथ ही केंद्र पर होने वाली गतिविधियों के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए पोषकता की महत्वता बताई। रायपुर के सहायक कृषि अधिकारी प्रहलाद सिंह ने जहरीली सब्जियों से पनपने वाली बीमारियों पर जोर देते हुए आज के दौर में जैविक सब्जियों की उपयोगिता बताई।

इस दौरान चंद्रा आहुजा ने आंगनवाड़ी की कार्यकर्ताओं द्वारा गांवों में किए जा रहे कार्यों पर प्रकाश डालते हुए, बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं के लिए पोषणता के महत्व को समझाया। केंद्र द्वारा कार्यक्रम में मौजूद सभी महिलाओं 100 न्यूट्री किट वितरित किए। कार्यक्रम में मौजूद किसान महिलाओं को पोषण वाटिका के किट वितरण की गई। कार्यक्रम में 50 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ ही 26 किसान महिलाओं ने भाग लिया।

कार्यक्रम को सफल बनाने में स्टूडेंट रेडी के विद्यार्थियों का सहयोग रहा। कार्यक्रम का संचालन केंद्र के प्रोग्राम सहायक विकास चौधरी ने किया।

खबरें और भी हैं...