पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सांचौर में चोरी-लूट का मुद्दा:दो कस्बे बंद रख व्यापारी बोले- हमें हल्के में न लो, चोरों को पकड़ हमारा माल भी दिलाओ

सांचौर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • उपखंड कार्यालय के आगे धरने का 5वां दिन, चितलवाना पूरी तरह बंद रहा
  • अन्य कस्बों से आए सैकड़ों व्यापारियों में भी दिखा आक्रोश
  • व्यापारियों का दर्द : पहले कोरोना से कारोबार थमा, फिर चोरी व लूट, अब पुलिस नहीं दे रही साथ

सांचौर शहर में हुई चोरी व लूट की घटनाओं के मुद्दे पर अब चितलवाना सहित अन्य जगह के व्यापारी भी लामबंद हो गए हैं। वारदातों के खुलासे की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन के तहत व्यापार महासंघ के आह्वान पर सोमवार को सांचौर व चितलवाना कस्बे बंद रहे। सांचौर उपखंड कार्यालय के आगे व्यापार महासंघ की और से चल रहा धरना पांचवें दिन भी जारी रहा।

उपखंड कार्यालय के आगे भी बड़ी संख्या में व्यापारी पहुंचे एवं पुलिस प्रशासन से शहर में हुई चोरी व लूट की घटनाओं का खुलासा करने की मांग करते दिखे। धरने के दौरान व्यापारियों ने पुलिस पर गंभीर आरोप भी लगाए। व्यापारियों का कहना है कि पुलिस की मिलीभगत से सांचौर शहर में चोरी व लूट की वारदातें बढ़ रही हैं, जबकि पुलिस इन मामलों में खुलासा नहीं कर पा रही है। इस दौरान व्यापारियों ने मुख्यमंत्री के नाम उपखंड अधिकारी को भी ज्ञापन सौंपा। धरने के दौरान रूपाराम गहलोत, सुरेंदसिह भाटी,पुनमाराम पुनिया, दुर्गाराम चौधरी, मोतीराम कांवा, दिनेश खत्री, भीखाराम, जगदीश शारदा, बाबू खान, शकूर भाई, पीराराम, छोगाराम चौधरी, मफाराम, जबरसिंह सहित कई जने मौजूद रहे।

पीडि़त व्यापारी : अब कैसे न माने कि मिलीभगत नहीं
अमलोकराम ने कहा कि मेरे साथ 1 लाख 60 हजार की लूट चाकू की नोक पर हुई। अब तक आरोपी गिरफ्तार नहीं हुए, तब मिलीभगत का शक होता है। पूराराम चौधरी ने कहा कि पुलिस अधिकारियों से महासंघ के प्रतिनिधि मंडल पिछले 6 माह से खुलासे की मांग कर रहा हैं, किन्तु कार्रवाई नहीं होना पुलिस कार्यशैली पर सवाल खड़ा करता है। पीडि़त सुरेन्द्र सिंह भाटी ने कहा कि घर पर चोरी की घटना के बाद से वह परेशान है। पुलिस द्वारा बरामद माल कुछ हिस्सा ही कागजों में लेकर दिया जा रहा है, जबकि उसके माल की आरोपियों से पुलिस ने पूरी रिकवरी कर रखी है।

अध्यक्ष पुरोहित बोले- मिलीभगत के प्रमाण देने को तैयार, अधिकारी सुनने को तैयार नहीं
समस्त व्यापार महासंघ के अध्यक्ष हरीश पुरोहित ने कहा कि पुलिस व्यापारियों को हल्के में ले रही है, जिसकी वजह से पांच दिन बाद भी कोई खुलासा वह कार्यवाही नहीं हो रही है। ऐसे में पुलिस की आरेापियों के साथ मिलीभगत जाहिर हो रही है। उन्होंने कहा कि शहर में हुई चोरियों की वारदात को लेकर पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया, उनसे माल भी बरामद किया, किन्तु जितना माल आरोपियों से बरामद हुआ उसका कुछ प्रतिशत ही रिकॉर्ड में बता रही है जो सरासर गलत है।

पीडि़त पक्ष पुलिस की मिलीभगत को लेकर प्रमाण देने को तैयार है, किन्तु अधिकारी सुनने को तैयार नहीं हैं। धरने में बीरबल बिश्रोई ने कहा कि कोरोना के चलते लॉक डाउन रहा। इसमें व्यापारियों को भारी नुकसान हुआ। उसके बाद लूट, चोरी की घटनाएं खुले आम होने लगी। पुलिस कोई कार्यवाही नहीं कर रही है, जो सहन नहीं किया जाएगा। भंवरलाल मांजू ने कहा कि आरोपियों से मिलीभगत का मामला गंभीर विषय है। ऐसे में पुलिस को अपनी साख बचानी है तो इन वारदात का खुलासा कर जब्त किया गया माल पीडि़त परिवार को सौंप दे।

सांचौर में पान और चाय की थड़ियां भी बंद रहीं
सांचौर शहर में हुई चोरी व लूट की घटनाओं के मुद्दे पर व्यापार महासंघ के आह्वान पर सांचौर शहर पूरी तरह से बंद रखते हुए व्यापारियों के साथ होने का परिचय दिया। शहर की प्रमुख सड़कें पूरे दिन सूनसान रहीं। जिसमें पान के गले से लेकर चाय की थड़ी सहित सम्पूर्ण बाजार पूर्ण रूप से बंद रहा। व्यापारियों ने मुख्यमंत्री के नाम उपखंड अधिकारी को भी ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि शहर में आमजन व व्यापारियों के साथ सैकड़ों चोरियों व लूटपाट की वारदात हुई हैं, जिसमें चोरी किया हुआ माल पुलिस थाने के अन्दर बांट दिया जाता है। वहीं कुछ मामलों में चोरियों की वारदात के आरोपियों की जानकारी पुलिस को होते हुए भी वारदात का राज नहीं खोला जा रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें