पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विकास की राह पर गांव:200 मॉडल विलेज बनेंगे, शौचालय, जल निकासी सुधरेगी

सिरोहीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • स्वच्छ भारत मिशन के तहत 175 गांवों की डीपीआर मंजूर, 25 गांवों की डीपीआर बनाई जाएगी

जिले के 200 गांवों को मॉडल विलेज का रूप दिया जाएगा। स्वच्छ भारत मिशन के ठोस एवं तरल कचरा प्रबंध परियोजना के तहत जिले के गांवों में मूलभूत सुविधाओं का विकास किया जाएगा। जिला परिषद की ओर से 175 गांवों की डीपीआर तैयार कर जिला स्तर से स्वीकृति दी जा चुकी है तथा वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बाकी 25 गांवों की डीपीआर बनाकर सरकार को भेजी जाएगी।

वित्तीय वर्ष 2021-22 में 200 गांवों का कायाकल्प किया जाएगा। मिशन के पहले चरण में घर-घर शौचालय का निर्माण करवाया गया था। अब दूसरे चरण में ठोस एव तरल कचरा प्रबंधन परियोजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में भी कचरा प्रबंधन कर गांव की गली, मोहल्ले में व्यर्थ बहने वाले गंदे पानी व कचरे से मुक्ति दिलाई जाएगी।

इसका निस्तारण स्थानीय स्तर पर ही किया जाएगा। इससे गांव के लोगों को रोजगार उपलब्ध हो सकेगा। घरों व समुदाय स्तर से कचरा एकत्र करने के लिए स्वच्छता श्रमिकों की सेवाएं ली जाएंगी। गंदे पानी की निकासी के लिए सोख्ता गड्ढा, नाली निर्माण पानी भंडारण सयंत्र लगाए जाएंगे।

200 गांवों में 171 पब्लिक व 3288 व्यक्तिगत टॉयलेट बनेंगे : इस वित्तीय वर्ष में जिले की 68 ग्राम पंचायतों के 200 गांवों में 171 सामुदायिक शौचालय एवं 3288 व्यक्तिगत शौचालयों की लक्ष्य दिया गया हैं। ब्लॉक वार आवंटित लक्ष्य को निर्धारित समय में पूरा करने की जिम्मेदारी ब्लॉक प्रभारियों को सौंपीं गई है।

जल जीवन मिशन तहत बरसाती पानी को संग्रहित करने के लिए टांका निर्माण एवं पौधारोपण को बढ़ावा देने पर भी जोर दिया। बैठक में अधिशाषी अभियंता शंकरलाल राठौड़, जिला परियोजना समन्वयक चांदू खान, हर ब्लॉक सहायक अभियंता, ब्लॉक प्रभारी एवं ब्लाक कोर्डिनेटर ने भाग लिया।

सप्ताहभर में शुरू होगा काम

माँडल विलेज के लिए स्वीकृत डीपीआर में मनरेगा, एफएफसी एवं अन्य योजना ये कन्र्वजेन्स किया जाकर एक सप्ताह के भीतर शत प्रतिशत स्वीकृति जारी की जाएगी। शुक्रवार को समीक्षा बैठक में प्रगति की समीक्षा की गई। गांवों में बनाए गए सामुदायिक शौचालयों की उपयोगिता एवं रखरखाव में समुदाय का सहयोग लिया जाएगा।

-भागीरथ विश्नाई, सीईओ, जिला परिषद, सिरोही

खबरें और भी हैं...