मौसम / दिनभर छाए रहे बादल, फिर भी तीन डिग्री बढ़कर 40 पर पहुंचा पारा, 3 दिन बाद बारिश की उम्मीद

Clouds remained cloudy throughout the day, yet the mercury rose by three degrees to 40, rain expected after 3 days
X
Clouds remained cloudy throughout the day, yet the mercury rose by three degrees to 40, rain expected after 3 days

  • तापमान बढ़ने से गर्मी से बेहाल रहे लोग, अभी बारिश के लिए जिले वासियों को करना होगा इंतजार

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 08:48 AM IST

सिरोही. जिले में दिनभर बादल छाए रहने के बावजूद मंगलवार को एक ही दिन में तापतान 3 डिग्री बढ़ गया। जिले में मंगलवार को अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया तथा न्यूनतम तापमान भी 30 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया, जिससे दिन में भीषण गर्मी से लोगों के हाल बेहाल रहे। इधर, प्रदेश के कई जिलों में 6 दिन पहले प्रवेश हुए मानसून के बावजूद सिरोही जिले के लोगों को मानसून का इंतजार है।

मौसम विभाग के अनुसार अगले तीन-चार दिनों के बाद यहां बारिश की संभावनाएं बनेगी। शहर में अलसुबह से ही बादलों की आवाजाही शुरु हो गई थी, हालांकि दिन में कुछ देर के लिए तेज धूप खिली लेकिन फिर से आसमान में काले घने बादल छाए रहे।

बादल छाए रहने के बावजूद जिले के दिन के तापमान में एक ही दिन में 3 डिग्री की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई। सोमवार को जिले में दिन का तापमान 37 डिग्री सेल्सियस था, जबकि मंगलवार को तापमान बढ़कर 40 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। तापमान बढऩे के कारण लोगों के भीषण गर्मी से होल बेहाल हो गए।

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार ट्रफ लाइन का असर राजस्थान की तरफ नहीं होने से इस तरफ बादलों की आवाजाही व नमी का आना भी कम हो गया है, यही कारण है कि बारिश नहीं हो पा रही है। वहीं राजस्थान के ऊपर बना चक्रवात कम होने से अरब सागर से भी बादलों का आना-जाना कम हो गया है। एक अन्य कम दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में बन रहा है, जिसका असर अगले 3-4 दिन बाद दिखाई देगा और इसके बाद ही बारिश की संभावनाएं बनेगी।
जून महीने में 8 बार हुई बारिश

कभी चक्रवाती तूफान के असर से, तो कभी हुई प्रीमानसून की बारिश : जिले के लोगों को अभी मानसून का इंतजार है, हालांकि जिले में मानसून से पहले जून महीने में करीब 9 बार बारिश हो चुकी है। इसमें कभी चक्रवाती तूफान के असर से बारिश हुई है, तो कभी प्रीमानसून की बारिश। जिससे अब तक जिले में कुल 49.9 एमएम औसत बारिश हो चुकी है। जबकि, जिले की कुल 884.6 एमएम औसत बारिश है।

इधर, जामठा में शाम को आया तुफान, घरों के उड़े टीन शेड, पेड़ गिरे
मंडार. समीपवर्ती ग्राम पंचायत गुंदवाड़ा के जामठा व कोटड़ा गांव में मंगलवार शाम को अचानक तेज हवा के साथ तुफान आया। तेज हवा और बारिश के दौरान गांव में कई घरों पर लगे टीन शेड उड गए तथा कई जगहों पर पेड़ भी गिरे। जामठा निवासी गोविंद सिंह ने बताया कि शाम को अचानक तेज बारिश के साथ तुफान आया, जिससे उसके घर के आगे लगे लोहे के टीनशेड हवा उड कर करीब 100 फीट दूर जाकर गिरे। वहीं समंदर ंिसंह देवडा ने बताया कि गांव में कई मकानों के लगे टीन शेड तेज हवा में उड गए। साथ ही गांव में कई जगहों पर पेड़ भी गिर गए। वहीं मंडार में शाम को हल्की बूंदाबांदी हुई।

पिछले साल 3 जुलाई की रात को जिले में प्रवेश हुआ था मानसून
जिले में मानसून की एंट्री अधिकतर जुलाई महीने में होती है। गत साल वर्ष 2019 को भी मानसून 3 जुलाई की आधी रात को मानसून प्रवेश हुआ था, जो वर्ष 2018 में आए मानसून से  करीब 12 दिन पहले था। वर्ष 2018 में जिले में मानसून का प्रवेश 16 जुलाई को हुआ था।

जून में हुई बारिश

  • चक्रवाती तूफान के असर से 1 जून , 3 जून व 7 जून को बारिश हुई।
  • प्रीमानसून की 8 जून, 9 जून, 11 जून, 12 जून व 15 जून को बारिश हुई थी।

जिले में अब तक कहा कितनी हुई बारिश

सिरोही    13
आबूरोड    38
माउंट आबू    55
रेवदर    55
शिवगंज    90.8   पिंडवाड़ा    17

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना