पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानी के लिए आत्मनिर्भरता:2 परियोजनाओं से सिरोही व आबूरोड में नहीं रहेगा पेयजल संकट, खेती के लिए भी मिल सकेगा पानी

सिरोही2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बत्तीसा बांध परियोजना से सिरोही व पिंडवाड़ा समेत 31 गांवों को मिलेगा पीने का पानी, 228.05 करोड़ रु. से होंगे काम
  • भैंसासिंह बांध परियोजना से आबूरोड में लोगों को 24 घंटे उपलब्ध होगा पानी, 266 करोड़ रु. से होंगे काम

जिले में पेयजल की दो बड़ी परियोजनाओं का काम तेजी से चल रहा है, जिससे सिरोही, पिंडवाड़ा और आबूरोड के लोगों पेयजल संकट का सामना नहीं करना पड़ेगा। साथ ही इन दोनों परियोजना से किसानों को खेती के लिए भी पानी दिया जाएगा। इसमें बत्तीसा बांध से सिरोही व पिंडवाड़ा समेत 31 गांवों के लोगों को फायदा होगा।

साथ ही भैंसासिंह बांध परियोजना का काम पूरा होने के बाद आबूरोड शहरवासियों को 24 घंटे पीने का पानी मिल सकेगा। जानकारी के अनुसार साल 2016 में जिले में पेयजल समस्या के स्थाई समाधान के लिए तत्कालीन मुख्यमंत्री के सिरोही जिले में प्रवास के दौरान जनप्रतिनिधियों की मांग के बाद बत्तीसा बांध परियोजना की घोषणा की गई थी। राज्य सरकार की ओर से इसके लिए 28 जुलाई 2016 को 228.05 करोड़ रुपए की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति दी गई थी और 16 अक्टूबर 2019 को इस कार्य शुरू किया गया। इसको अगले साल 15 अक्टूबर 2021 तक पूरा करवाने का लक्ष्य रखा गया है।

परियोजना से प्रभावित 91.202 हैक्टेयर वन भूमि को अधिग्रहीत की गई है। इसके साथ ही डूब क्षेत्र में आने वाली निजी भूमि की अवाप्ति के लिए 237.38 लाख रुपए का मुआवजा देने के साथ ही इससे विस्थापित हुए परिवारों के दुबारा स्थापित करवाने के लिए 1052.02 लाख रुपए का मुआवजा दिया गया है। इन सब लोगों को भीमाना गांव के पास बसाया गया है। वहां पर सड़क निर्माण कार्य पूर्ण करवाया जा चुका है। इसके साथ ही विद्युतीकरण, पेयजल व्यवस्था, स्कूल, पशु चिकित्सालय, प्राथमिक उपचार केंद्र व आंगनबाड़ी केंद्र निर्माण का कार्य प्रगति पर है।

वर्ष 2051 की जनसंख्या को आधार मानकर भैंसासिंह बांध परियोजना का प्रोजेक्ट किया तैयार

31 गांवों में मिलेगा पीने का पानी
बत्तीसा बांध की भराव क्षमता 577.40 एमसीएफटी है। इसमें उपयोगी भराव क्षमता 500.60 एमसीएफटी है। बांध में उपलब्धता के आधार पर 75 फीसदी पानी का उपयोग पेयजल सप्लाई के लिए किया जाएगा। इसमें सिरोही व पिंडवाड़ा समेत जिले के 31 गांवों के लोगों को पीने का पानी मिलेगा। शेष पानी से आसपास के क्षेत्र में रहने वाले किसानों को सिंचाई के लिए पानी मिलेगा।

सड़क निर्माण के लिए बजट आवंटित
बत्तीसा नाला बांध परियोजना के एईएन मनीष जांगिड़ के अनुसार बांध के डूब क्षेत्र में आने वाली सड़क के स्थान पर नई सड़क बनाने के लिए 25.05 करोड़ का बजट सार्वजनिक निर्माण विभाग को हस्तानांतरित कर दिया गया है। इसके साथ ही वर्तमान में यहां पर वैकल्पिक सड़क का भी निर्माण कार्य करवाया जा रहा है।

बांध निर्माण कार्य की डिजायन एवं ड्राइंग तैयार
बत्तीसा नाला पर बांध बनाने का कार्य प्रगति पर चल रहा है। वहां पर खुदाई के साथ ही फाउंडेशन भरने का काम करवाया जा रहा है। इसके साथ ही बांध की डिजायन एवं ड्राइंग का अनुमोदन हो गया है। इसे अगले साल निर्धारित समय से पूर्व करवाने के लिए तेजी से काम करवाया जा रहा है।
- मनीष जांगिड़, एईएन, बत्तीसा बांध परियोजना, आबूरोड

इसी सप्ताह शुुरू करवा देंगे काम, ऑफिस तैयार
भैंसासिंह बांध से आबूरोड शहर को पीने के पानी को लेकर बनाई गई ड्राइंग को सबमिट कर दिया गया है। हमारा ऑफिस तैयार कर दिया है और इसी सप्ताह प्रोजेक्ट पर काम शुरु करवा देंगे। आबूरोड शहर की वर्ष 2051 की जनसंख्या को आधार मानकर प्रोजेक्ट बनाया है। शहरवासियों को 24 घंटे प्रेशर से पानी मिलेगा।
-प्रहलाद मीणा, एक्सईएन, रुडीप, आबूरोड

भैंसासिंह बांध से आबूरोड में 24 घंटे मिलेगा पानी, 4 साल में पूरा होगा काम
भैंसासिंह बांध का निर्माण वर्ष 2014 में पूरा हुआ था। इसके बाद शहर में 24 घंटे जलापूर्ति के लिए वर्ष 2018 में प्रोजेक्ट शुरू हुआ। इस प्रोजेक्ट पर 266 करोड़ रुपए खर्च होंगे और इसे अगले चार साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इस परियोजना को शहर की साल 2051 की जनसंख्या को आधार मानकर तैयार किया गया है और इसके पूरा होने के बाद शहरवासियों को 9 मीटर हाईट तक बिना मोटर के 24 घंटे प्रेशर से पानी मिलेगा, जिससे शहरवासियों को पेयजल किल्लत से छुटकारा मिल जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser