बड़ी धरपकड़:काेराेना जांच के बिना कर रहे थे मरीजों का इलाज, एक साथ 9 नकली डाॅक्टर गिरफ्तार

सिराेही6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सरूपगंज. बंगाली डॉक्टर को गिरफ्तार कर उसके पास से भारी मात्रा में दवाइयां बरामद की। - Dainik Bhaskar
सरूपगंज. बंगाली डॉक्टर को गिरफ्तार कर उसके पास से भारी मात्रा में दवाइयां बरामद की।
  • पुलिस चिकित्सा विभाग के 46 पुलिस अधिकारियाें व डाॅक्टरों की टीम ने की कार्रवाई

काेराेना संक्रमण के बिना काेराेना जांच के इलाज कर रहे 9 फर्जी डाॅक्टर के खिलाफ गुरुवार काे कार्रवाई कर उन्हें गिरफ्तार किया गया। कार्रवाई के दाैरान सामने आया कि िबना गैरकानूनी व फर्जी तरीके से यह लाेगाें का इलाज कर रहे थे। इनके क्लिनिक से भारी मात्रा में एलाैपैथी के साथ प्रतिबंधित दवाइयां व सर्जिकल उपकरण भी मिले हैं। काेराेना की दूसरी लहर में ग्रामीण क्षेत्राें से अधिकांश ऐसे मामले आने लगे जिनकी तबीयत ज्यादा खराब थी ताे इसकी जानकारी जुटाई गई। सामने आया किअधिकांश मरीजाें ने फर्जी बंगाली डाॅक्टर से इलाज लिया था। हैरानी की बात यह भी है कि इनमें से अधिकांश मरीज पाॅजिटिव भी निकले। इस पर सिराेही पुलिस की ओर से गुरुवार काे कार्रवाई कर अलग-अलग थाना क्षेत्राें से करीब 9 बंगाली डाॅक्टराें काे गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की गई।

एसपी हिम्मत अभिलाष टांक ने बताया कि यह बिना डिग्री ओर अनधिकृत रूप से मरीजाें का इलाज कर रहे थे। जब पुलिस टीम ने कार्रवाई की ताे यह भी मिली की काेरेाना जांच के बिना ही मरीजाें काे सर्दी-जुकाम व बुखार का इलाज कर दवाइयां दे रहे थे। तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर मरीज अस्पताल आए। कुछ मरीजाें से जानकारी जुटाई ताे सामने आया कि अस्पताल ने से पहले उन्हाेंने गांवाे में फर्जी बंगाली डाॅक्टर से इलाज लिया था। इसके बाद टीम गठित कर बीट कांस्टेबल से जानकारी जुटाई गई। गुरुवार काे एक साथ 9 थाना क्षेत्र में कार्रवाई कर 9 बंगाली डाॅक्टर किया गया।

खबरें और भी हैं...