पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

माैसम:अरब सागर और झारखंड की तरफ से बढ़ रहे लो प्रेशर से हुई बारिश, पिंडवाड़ा में पूरी रात बिजली गुल

सिरोहीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जुलाई के पहले सप्ताह तक ही जिले में हो चुकी है औसत की 8 प्रतिशत बारिश
  • जिलेभर में सोमवार शाम शुरू हुआ बारिश का दौर देर रात तक जारी रहा, माउंट में सुहाना हुआ मौसम
Advertisement
Advertisement

जिलेवासियों को काफी इंतजार के बाद सोमवार शाम को हुई बारिश ने थोडी राहत जरूर दी, लेकिन मंगलवार को फिर से बादल छाए रहने और बारिश नहीं होने से उमस भरी गर्मी ने परेशान किया। मौसम विशेषज्ञों की माने तो अरब सागर और झारखंड की तरफ से बढ़ रहे लो प्रेशर से जिले में में बारिश हुई है और अगले दो दिन में भी बारिश होने की संभावना है। इधर, इस बार जुलाई के पहले सप्ताह में ही जिले में औसत की 8 प्रतिशत बारिश हो चुकी है।

जिले की औसत बारिश 884.6 एमएम है, जबकि अब तक 64.8 एमएम बारिश हो चुकी है। इसमें अब तक शिवगंज में सबसे ज्यादा 114.2 एमएम बारिश हुई है तथा सबसे कम आबूरोड में 43 एमएम बारिश हुई है। सोमवार रात हुई बारिश में जिले में सबसे ज्यादा पिंडवाड़ा क्षेत्र मे 44 एमएम बारिश हुई, जबकि सिरोही में 31 एमएम बारिश हुई।

पिंडवाड़ा में तेज हवाओं के साथ बारिश होने से कई जगहों पर पेड़ गिर गए। पेड़ बिजली के तारों पर गिरने से शहर में देर रात तक बिजली गुल रही, जिससे लोगों को परेशानी हुई। वहीं जिले के हिल स्टेशन माउंट आबू में मौसम सुहाना बना हुआ है। यहां रिमझिम बारिश का दौर रुक-रुक कर जारी रहा। इधर, जिले में दिन का तापमान 35 डिग्री सेल्सियस तथा रात का तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

माउंटआबू में बादलों के बीच रुक-रुक कर होती रही हल्की बारिश
माउंटआबू. शहर में सोमवार रात से ही रुक-रुक कर हल्की बारिश का दौर जारी रहा। मंगलवार सवेरे एवं शाम को कुछ समय मौसम खुला रहने के दौरान खुलकर धूप निकली। हालांकि, अधिकांश समय रुक-रुक कर हल्की बारिश का दौर चलता रहा। इससे मौसम सुहाना बना रहा। इसके विपरीत आबूरोड में दिनभर उमस का वातावरण बना रहा। इससे लोगों के पसीने छूटते रहे। कई बार बादलों की आवाजाही के दौरान बारिश का मौसम भी बना लेकिन, बारिश नहीं हुई।

पिंडवाड़ा : रात को सबसे ज्यादा पिंडवाड़ा में 44 एमएम बारिश, तेज हवा से गिरे पेड़, 4 घंटे बंद रही बिजली, लोग होते रहे परेशान

शहर में सोमवार रात को तेज हवा के साथ मूसलाधार बरसात हुई। सवेरे 8 बजे तक बीते 24 घंटों में जिले में सबसे ज्यादा 44 एमएम बारिश यहीं पर हुई। देर रात को हुई बरसात से करीब 3 पेड धराशायी हो गए। ये पेड बिजली के तारों पर गिरे, जिससे रात को करीब 9.30 बजे शहर में बिजली गुल हुई, जो 4 घंटे बंद रही। देर रात को करीब 1.30 बजे पेड़ों को हटाने के बाद बिजली आपूर्ति सुचारू की गई। इस दौरान शहरवासी बगैर लाइट के परेशान रहे।

ये 4 परिस्थितियां बना रही बारिश की संभावना
1. लो प्रेशर : झारखंड में बने लो प्रेशर का मूवमेंट सोमवार से शुरू हो गया। यह छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश से होते हुए राजस्थान की तरफ बढ़ रहा है, जिससे बादल व नमी इस तरफ भी बढने लगी है।
2. दूसरा लो प्रेशर : अरब सागर में बना ऊपरी हवाओं का चक्रवात भी लो प्रेशर में बदला है। मूवमेंट गुजरात से शुरू होकर दक्षिणी राजस्थान की तरफ है, जिससे नमी व बादल आएंगे।
3. बादल : दक्षिण-पश्चिम राजस्थान की तरफ बादल है, जिन्हें नमी मिलने के बाद अच्छी बारिश की संभावनाएं हैं। टर्फ लाइन के साथ लो प्रेशर के मूवमेंट से नमी मिलने की संभावना है।
4. टर्फ लाइन : अबर सागर में बने लो प्रेशर व झारखंड की तरफ से बढ़ रहे लो प्रेशर के बीच टर्फ लाइन बनी हुई है, जो कन्वर्जन जोन भी है। इससे नमी और बादल इसी तरफ बढ रहे है, जिससे राजस्थान में बारिश की संभावना है।

आगे क्या : मौसम विशेषज्ञों के अनुसार शहर में अगले दो दिन में बारिश की संभावना बन रही है। इसका कारण दो कम दबाव के क्षेत्र का एक साथ विकसित होना है। बारिश होने से तापमान भी कम होने की संभावना है।

कहां कितनी हुई बारिश

पिंडवाड़ा44 सिरोही31 रेवदर05 माउंट आबू 04

अब तक जिले में हुई बारिश
आबूरोड 43

माउंट आबू 60.8

रेवदर 60.0

सिरोही 60.0

पिंडवाड़ा 61.0

शिवगंज 114.2

(आंकड़े 1 जून से 7 जुलाई सवेरे 8 बजे तक के, बारिश एमएम में)

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement