नॉन टीएसपी के तबादलों के आवेदन नहीं लिए:टीएडी आयुक्त और शिक्षा परिषद के निदेशक को दिया ज्ञापन

सिरोही2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान समग्र शिक्षक संघ के प्रतिनिधि मंडल ने अनुसूचित जनजाति विकास विभाग की आयुक्त प्रज्ञा केवलरमानी एवं राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद की निदेशक प्रियंका जोधावत को अलग अलग ज्ञापन सौंपें।

समग्र शिक्षक संगठन के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. उदय सिंह ने बताया कि टीएडी आयुक्त को ज्ञापन में बताया कि प्रदेश में टीएसपी क्षेत्र से नॉन टीएसपी क्षेत्र एवं नॉन टीएसपी क्षेत्र से टीएसपी क्षेत्र में शिक्षकों एवं कार्मिकों के उनके द्वारा दिए गए विकल्प अनुसार पद स्थापन परिवर्तन अथवा स्थानांतरण करवाने की मांग की। टीएडी कमिश्नर से वार्ता के दौरान उन्होंने अवगत कराया कि शिक्षा विभाग की ओर से भारत के पांचवी अनुसूची में वर्णित टीएसपी क्षेत्र में भारत के राजपत्र 19 मई 2018 के बाद भी नॉन टीएसपी से चयनित अध्यापकों का टीएसपी क्षेत्र में पद स्थापन किया हे, जो.कि न्याय उचित नहीं है। उन्होंने यह भी बताया कि शिक्षा विभाग की ओर से हाल ही में लिए गए स्थानान्तरण आवेदनों में टीएसपी एवं नॉन टीएसपी के तबादलों के संबंध में ऑनलाइन आवेदन ही नहीं लिए गए है। टीएसपी कमिश्नर ने मामले को गंभीरता पूर्वक सुना एवं उचित कार्रवाई करवाने का आश्वासन दिया।

इसी क्रम में समग्र शिक्षक संगठन के पदाधिकारियों ने राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद उदयपुर की निदेशक प्रियंका जोधावत को भी ज्ञापन देकर सेवारत अध्यापकों एवं कार्मिकों के विभागीय प्रशिक्षण आबू पर्वत जैसे दूरस्थ एवं महंगे पर्वतीय पर्यटन स्थल के बजाय जिला अथवा ब्लाॅक मुख्यालयों पर आयोजित कर राहत दिलाई जानी चाहिए। उन्होंने यह भी अवगत कराया कि कुछ जिलों में डाइट जिला मुख्यालयों से दूर स्थित होने से भी आवागमन एवं अन्य समस्याएं होती है। परिषद की निदेशक ने पूरे मामले में उचित कार्रवाई कर समाधान का भरोसा दिलाया। ज्ञापन देने के दौरान उदयपुर जिले के जिलाध्यक्ष देव रावत, जिला महामंत्री आकाश सिसोदिया, उपाध्यक्ष राहुल सेन व फिरोज खान मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...