काेराेना कहर / वृद्ध की पहले रिपोर्ट निगेटिव, जोधपुर में मौत के बाद उसी सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव बताई

सिरोही. कृष्णापुरी में कर्फ्यू लगाने के बाद सूनी पड़ी सड़कें। प्रशासन ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है। सिरोही. कृष्णापुरी में कर्फ्यू लगाने के बाद सूनी पड़ी सड़कें। प्रशासन ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है।
X
सिरोही. कृष्णापुरी में कर्फ्यू लगाने के बाद सूनी पड़ी सड़कें। प्रशासन ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है।सिरोही. कृष्णापुरी में कर्फ्यू लगाने के बाद सूनी पड़ी सड़कें। प्रशासन ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है।

  • पहले रिपोर्ट निगेटिव होने पर जोधपुर में अस्पताल प्रशासन ने शव परिजनों को सौंपा, जावाल में किया अंतिम संस्कार
  • शुक्रवार देर रात पाली मेडिकल कॉलेज से उसी मरीज की रिपोर्ट को बताया पॉजिटिव
  • संपर्क में आए परिवार के 6 सदस्यों समेत 61 रिश्तेदारों और ग्रामीणों को चिह्नित कर किया होम क्वारेंटाइन

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

सिरोही. जिले में कोरोना के मरीज लगातार बढ़ते जा रहे हैं। जिले में अब तक काेराेना मरीजों की संख्या 100 तक पहुंच गई है, जबकि एक्टिव केस 96 हैं और पिछले तीन दिनों में तीन मरीज पूरी तरह से स्वस्थ होकर घर लाैट गए हैं। आबूरोड के मूंगथला से शनिवार काे एक साथ तीन पॉजिटिव सामने आए हैं। इनमें दो मुंबई और एक चेन्नई का प्रवासी है। इधर, जावाल में एक वृद्ध की रिपोर्ट को लेकर अस्पताल प्रबंधन अब भी संशय में हैं। इस वृद्ध की रिपोर्ट पहले निगेटिव आई थी, लेकिन उसकी मौत के बाद जब जोधपुर में उसकी रिपोर्ट पाली मेडिकल कॉलेज से मंगाई तो उसमें उसे पॉजिटिव बताया।

इस बीच स्थानीय प्रशासन परिजनों तक पहुंचता उससे पहले उसका दाह संस्कार परिजन कर चुके थे। शनिवार को मेडिकल टीम जावाल पहुंची और वृद्ध के संपर्क में आए लोगों को चिह्नित किया। दरअसल, 61 साल का यह वृद्ध कुछ दिनों पूर्व अहमदाबाद से आया था। सीएमएचओ डॉ. राजेश कुमार ने बताया कि परिजनों का कहना था कि उसे सांस की समस्या थी और तबीयत खराब होने पर सिरोही अस्पताल लेकर आए। यहां उसकी सैंपल लिए और जांच के लिए पाली मेडिकल कॉलेज भिजवाया, जहां रिपोर्ट निगेटिव आई। इस दौरान वृद्ध की तबीयत बिगड़ गई तो उसे जोधपुर रेफर कर दिया और वहां उसकी 21 मई की रात मौत हो गई थी। 

वहां भी पुरानी रिपोर्ट के आधार पर अस्पताल प्रबंधन ने शव परिजनों को सौंप दिया और शुक्रवार को जावाल में उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया गया। इस बीच शुक्रवार देर शाम इसी वृद्ध की रिपोर्ट को पॉजिटिव बताया गया। इस पर चिकित्सा विभाग में हड़कंप मच गया और इसके बाद शनिवार को गांव में टीम भेजी गई। इस पर संपर्क में आए 6 परिवार के सदस्यों और रिश्तेदार समेत अन्य स्थानीय 61 लोगों को चिह्नित किया गया है।

पूर्व में भी रिपोर्ट में हुई थी गफलत

यह पहली बार नहीं हुआ है कि जब मरीज की रिपोर्ट को लेकर इस तरह की लापरवाही सामने आई है। इससे पूर्व भी सबसे पहले सामने आए मरीज की रिपोर्ट को निगेटिव बताया गया था। और, इसके बाद दूसरे दिन उसी की रिपोर्ट को पॉजिटिव बताया गया है। इस बार भी ऐसा हुआ है कि एक ही सैंपल की रिपोर्ट को पहले निगेटिव और अब पॉजिटिव बताया गया है। इस पर सीएमएचओ डॉ. राजेश कुमार ने पाली मेडिकल कॉलेज से तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है।
एक मरीज को छुट्टी दी, 96 एक्टिव केस
अस्पताल से लगातार तीसरे दिन भी काेराेना के एक मरीजों को छुट्टी मिली है। 14 दिन पूर्व यह युवक डबाणी से यहां आया था, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इस दौरान अस्पताल में उपचार के बाद उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई। शनिवार को छुट्टी दे दी गई है। पहले दो मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी गई थी। जिले में अब एक्टिव केस की संख्या 96 हो चुकी है।  
जेल प्रहरियों की हिस्ट्री खंगाल रहे
जिले में पहली बार 6 जेल प्रहरी कोरोना पॉजिटिव आने के बाद इनकी हिस्ट्री खंगाली जा रही है। हालांकि अभी तक यह सामने नहीं आया है कि यह कहां से और कैसे संक्रमित हुए हैं, लेकिन जहां यह निवासरत हैं उस क्षेत्र काे जीरो मोबिलिटी क्षेत्र घोषित कर दिया गया है। शनिवार सुबह कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल व एसपी कल्याणमल मीणा जेल पहुंचे और जेल के डिप्टी से इस बारे में जानकारी जुटाई।

मूंगथला में मुंबई से दो तथा चेन्नई से आया एक प्रवासी भी कोरोना पॉजिटिव, आइसोलेशन सेंटर में किया रेफर
तहसील के मूंगथला गांव में शनिवार को मुंबई एवं चेन्नई से आए तीन प्रवासी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसके तत्काल बाद एसडीएम  डॉ. रविंद्र गोस्वामी, तहसीलदार दिनेश आचार्य, विकास अधिकारी शैलेंद्र जोशी, बीसीएमओ डॉ. गौतम मोरारका एवं आबूरोड सदर पुलिस थानाधिकारी आनंद कुमार की अगुवाई में टीम मौके पर पहुंची। तीनों रोगियों को किंवरली स्थित मानसरोवर आइसोलेशन सेंटर में भर्ती किया गया और क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

तहसीलदार आचार्य के अनुसार गांव में गत 10 मई को एक प्रवासी चेन्नई से तथा दो मुंबई, महाराष्ट्र से 13 व 17 मई को गांव में आए थे। तीनों ही होमक्वारेंटाइन में थे। गुरुवार को आबूरोड सीएचसी प्रभारी डॉ. एमएल हिंडोनिया की अगुवाई में टीम ने सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर मानसरोवर आइसोलेशन सेंटर में भर्ती किया है।
श्रमिक स्पेशल ट्रेन में पॉजिटिव के संपर्क में आए 9 के सैंपल लिए
इसके साथ ही चिकित्सा विभाग की ओर से गत हफ्ते अहमदाबाद-वाराणासी श्रमिक स्पेशल ट्रेन में कोरोना पॉजिटिव पाए गए मृतक श्रमिक के संपर्क में आए जीआरपी पुलिस थाने के 4 पुलिसकर्मियों के साथ 3 सफाई कर्मचारी, 1 डॉक्टर एवं एक एंबुलेंस ड्राइवर के भी सैंपल लेकर जांच के लिए भिजवाए हैं। आबकारी विभाग उदयपुर के आयुक्त एवं जिला नोडल अधिकारी विष्णुचरण मलिक ने शनिवार को आइसोलेशन सेंटर का निरीक्षण किया।
जिले में मरीजों की संख्या 100 तक पहुंच गई है। अभी तक तीन को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और अब एक्टिव केस 96 हैं। जावाल के वृद्ध की रिपोर्ट पहले निगेटिव बताई थी। उसके परिजनों ने बताया था कि उन्हें सांस लेने की समस्या थी। इस पर जोधपुर रेफर किया गया था। शुक्रवार देर शाम आई रिपोर्ट में उसी रिपाेर्ट काे पॉजिटिव बताया है। पाली मेडिकल कॉलेज से तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी गई है। वृद्ध के संपर्क में आए लोगों को होम आइसोलेट किया है। 5 दिन बाद इनके सैंपल लिए जाएंगे।
-डॉ. राजेश कुमार, सीएमएचओ, सिरोही

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना