पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अतिक्रमण:मारकुंडेश्वर धाम अजारी की मुख्य सड़क होगी चौड़ी, हटाए अतिक्रमण

पिंडवाडा17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मुख्य सड़क पर हुए अतिक्रमण हटाने की ग्रामीण व भक्त कई वर्षों से प्रशासन से कर रहे थे मांग, रास्ते का सीमाज्ञान किया

समीपवर्ती अजारी गांव स्थित अतिप्राचीन मारकुंडेश्वर धाम की मुख्य सडक मार्ग पर हुए अतिक्रमण हटाने की मांग ग्रामीण व भक्त कई वर्षो से प्रशासन से कर रहे थे। इसको लेकर अब प्रशासन हरकत में आया तथा राजस्व विभाग टीम से सीमाज्ञान कर अतिक्रमण चिन्हित किए।

जानकारी के अनुसार अजारी फाटक से लेकर मारकुंडेश्वर धाम तक जाने वाली मुख्य सडक मार्ग पर कई अतिक्रमियों ने पक्के अतिक्रमण कर मार्ग को संकरा कर रखा है, जिसको लेकर मंदिर परिसर में वर्षभर धार्मिक, सामाजिक व मेलों में पहुंचने के लिए जाम लग जाता है।

इसको लेकर स्थानीय ग्रामीणों व भक्तों ने मंदिर का मुख्य मार्ग चौडा करने के लिए एसडीएम हरि सिंह देवल से मांग की थी। इस पर एसडीएम ने राजस्व विभाग टीम को सडक सीमा के तहत अतिक्रमणों को चिन्हित करने के निर्देश दिए।

इसको लेकर सरपंच लीलादेवी देवासी, ग्राम विकास अधिकारी दलपत राम लोहार, उपसरपंच हितेश रावल, भू-अभिलेख निरीक्षक अचलाराम मेघवाल, पटवारी हार्दिक जैन, रमेश रावल शिव सेना समेत अन्य लोगों की मौजूदगी में रोड के पास खसरों व रोड का सीमाज्ञान कर अतिक्रमणों को चिन्हित कर ग्राम पंचायत को जानकारी दी।

वहीं सडक मार्ग पर किए गए अतिक्रमणों को लेकर ग्राम पंचायत ने करीब 150 अतिक्रमियों को नोटिस जारी कर भूमि संबंधित पत्रावलियां मांगी है। वहीं मारकुंडेश्वर परिसर से लेकर अजारी में स्थित मंदिर दरवाजे तक बधु वार को ग्राम पंचायत ने रोड के दोनों तरफ से 8-8 फीट के बीच कच्चे अतिक्रमण जेसीसी मशीन से हटाकर सफाई करवाई। साथ ही रोड के सौंदर्यीकरण को लेकर दोनों तरफ पौधरोपण किया जाएगा।

नोटिस देकर मांगी पत्रावली

संभागीय आयुक्त के निर्देश पर ग्राम पंचायत ने आबादी भूमि व सडक सीमा में किए गए अतिक्रमणों को नोटिस देकर भूमि संबंधित पत्रावलियां मांगी है तथा मंगलवार को राजस्व विभाग की ओर से सीमाज्ञान कर अतिक्रमण चिन्हित कर ग्राम पंचायत को सूची उपलब्ध करवाई है। ग्राम पंचायत अतिक्रमणों को लेकर गंभीर है।

- दलपत लोहार, ग्राम विकास अधिकारी, अजारी

किया है रास्ते का सीमाज्ञान

​​​​​​​अधिकारियों के निर्देश पर मारकुंडेश्वर मार्ग के बीच रास्ते का सीमाज्ञान किया गया है। अतिक्रमियों की सूची ग्राम पंचायत को उपलब्ध करवा दी है।

- अचलाराम मेघवाल , भू-निरीक्षक अभिलेख, अजारी

खबरें और भी हैं...