आम नागरिक का बजट चरमरा गया:पूर्व विधायक राठौड़ ने पेट्रोल-डीजल पर राज्य वैट में कटौती की मांग की

सुमेरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पूर्व सरकारी उप मुख्य सचेतक एवं सुमेरपुर पूर्व विधायक मदन राठौड़ ने मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव को पत्र लिखकर राज्य में पेट्रोल डीजल की कीमतों पर राज्य वैट कम करवाने की मांग की है। राठौड़ ने बताया कि पेट्रोल व डीजल की बढ़ती कीमतों का असर आम जरूरत की प्रत्येक वस्तु के मूल्यों पर पड़ रहा है। इसके साथ ही प्रत्येक नागरिक को अपने दैनिक आवागमन के लिए भी पेट्रोल-डीजल का उपयोग करना पड़ता है। विगत कुछ अर्से से पेट्रोल डीजल की कीमतें बेतहाशा बढ़ती ही जा रही है, जिससे महंगाई भी बढ़ी है तथा आम नागरिक का बजट भी चरमरा गया है।

इसकी गंभीरता को मध्य नजर रखते हुए केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर 5 रुपए व डीजल पर 10 रुपए एक्साइज डयूटी घटाकर राहत देने का सराहनीय काम किया है व अन्य राज्याें से भी वैट की दरें कम करवाने का अाग्रह किया है। इसी तर्ज पर राजस्थान में भी पेट्रोल पर 5रुपए व डीजल पर 10 रुपए वैट घटा सकें तो सरचार्ज सहित कुल मिलाकर पेट्रोल पर 12 रुपए व डीजल पर 25 रुपए तक कटौती हाेगी। उन्हांेने बताया कि प्रधानमंत्री की अपील पर देश भर में कई राज्य सरकारों ने भी पेट्रोल-डीजल पर अपने वैट में कटौती कर जनता को भारी राहत प्रदान की है। सीएम गहलाेत से भी मांग करते हैं कि आप भी राजस्थान में ऐसी ही पहल कर पेट्रोल-डीजल पर लग रहे राज्य वैट में कटौती कर आमजन को मंहगाई से राहत प्रदान कराएं।

खबरें और भी हैं...