कलेक्टर ने कहा:पंचायतों में बच्चों के मुद्दों पर चर्चा हो, बाल मित्रवत ग्राम बनाएं

प्रतापगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राज्य सरकार, पंचायतीराज विभाग, सांख्यिकी विभाग एवं यूनिसेफ के संयुक्त तत्वावधान में चलाए जा रहे बाल हितैषी पंचायत संकल्प अभियान का जिला कलेक्ट्रेट परिसर से शुक्रवार को कलेक्टर डॉ इन्द्रजीत यादव व मुख्य कार्यकारी अधिकारी जितेन्द्र कुमार मीणा ने झंडी दिखाकर प्रतापगढ़ पंचायत समिति के ग्राम भ्रमण के लिए अभियान के बाल मित्रों और राजीव गांधी युवा मित्रों के साथ रवाना किया। अभियान दल से चर्चा करते हुए कलेक्टर ने कहा कि बच्चों के मुद्दों पर स्कूलों के साथ ग्राम पंचायत में भी चर्चा कर समस्याओं के लिए भी पहल की आवश्यकता है। राज्य सरकार बच्चों के लिए संवेदनशील है। बाल मित्रवत पंचायत हो जिसमें शत प्रतिशत नामांकन के साथ यह सुनिश्चित हो कि बच्चें स्कूलों से पलायन नही करें और नियमित स्कूल जाएं। मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने कहा कि पंचायतों में बाल संरक्षण इकाई के गठन के साथ ही राजीव गांधी युवा मित्रों के लिए घर घर पहुंचकर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से जोड़ने का यह सुनहरा अवसर है। पात्र वंचित व्यक्तियों के आवेदन तैयार कराने में मदद करें। अभियान को सफल बनाने में सम्बन्धित ग्राम पंचायतों के ग्राम विकास अधिकारी और सरपंच का अपेक्षित सहयोग प्राप्त होगा। सहायक निदेशक सांख्यिकी विभाग जगदीश कुमावत, राजीव गांधी युवा मित्र खुशीराम पंवार, गोवर्धन मीणा उपस्थित रहे। सांख्यिकी विभाग के सहायक निदेशक व अभियान समन्वयक मुकेश गुर्जर ने बताया कि 14 नवम्बर को बाल पखवाड़ा के दौरान राज्य स्तरीय समारोह में मुख्यमंत्री द्वारा इस अभियान को 33 जिलों में पंचायतों में बच्चों की सहभागिता, जन्म पंजीकरण, सम्पूर्ण टीकाकरण, बाल हितैषी पंचायत बनाने एवं सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को घर घर तक पहुंचाने के लक्ष्य के साथ रवाना किया। संभागवार रथ प्रत्येक जिले में 3 दिवस तक भ्रमण कार्य कर जन जागरूकता के लिए कार्य कर रहे है। इसी कड़ी में यह अभियान प्रतापगढ़ पंचायत समिति में 3 दिन तक भ्रमण करेगा। रथों को प्रतापगढ़ क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में शुरू किया : बाल हितैषी पंचायत संकल्प अभियान प्रतापगढ़ पंचायत समिति के ग्राम पंचायतों के क्षेत्रों में मुख्यमंत्री की मंशा के अनुसार बाल मित्र पंचायतों को बाल हितैषी बनाने एवं पंचायत अन्तर्गत ग्राम पंचायत विकास योजना की बैठक में बच्चों के मुद्दों को शामिल कराने में आमजन के साथ बच्चों को विभिन्न नवाचारों से जागरूक करेगा। भ्रमण के दौरान करमदीखेड़ा, लुहारिया, अचलपुर, बड़ीलॉक ग्राम पंचायतों के सरपंच, ग्राम विकास अधिकारी, पंचायत सदस्यों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के साथ जागरूकता कार्यक्रम की विभिन्न पहलूओं पर चर्चा की।

खबरें और भी हैं...