यात्रा की तिथि में बदलाव किया:रेलवे की रामायण यात्रा अब पांच दिसंबर से, 18 की जगह 20 दिन का होगा सफर

प्रतापगढ़12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भगवान श्रीराम के जीवन से जुड़े तीर्थस्थलों की यात्रा करवाने के लिए आईआरसीटीसी की स्पेशल ट्रेन अब पांच दिसंबर को दिल्ली के सफदरजंग से रवाना होगी। पूर्व में यह ट्रेन 24 अगस्त को चलनी थी, लेकिन गुजरात में बारिश के चलते इस यात्रा की तिथि में बदलाव किया गया है। ट्रेन में छह सौ यात्रियों के सफर करने की केपिसिटी हैं, जिसमें 273 रिजर्वेशन हो चुके थे।

प्रतापगढ़ से भी इस यात्रा के लिए श्रद्धालुओं ने रिजर्वेशन कराया है। यह पहला मौका है जब इस तरह की राम तीर्थ स्थल से जुड़ी यात्रा का लाभ श्रद्धालुओं को मिल रहा है। इसको लेकर राम भक्तों और सरदारों में जबरदस्त उत्साह दिखाई दे रहा है। तीर्थ यात्रा को लेकर रिजर्वेशन समय से पूर्व ही होने लगे थे। हालांकि डेट बढ़ने के बाद अब रिजर्वेशन को लेकर गति में कुछ कमी आई है। आईआरसीटीसी ने अब यह फैसला लिया है कि जो लोग बुकिंग नहीं रखना चाहते।

वह टिकट का पैसा वापस ले सकते है। आईआरसीटीसी के संयुक्त महाप्रबंधक/पर्यटन योगेंद्र सिंह गुर्जर ने बताया कि पांच दिसंबर को प्रस्तावित यात्रा के दौरान यात्रियों को भारत के विविधताओं से भरपूर धार्मिक और विरासत स्थलों जैसे अयोध्या, जनकपुर, सीतामढ़ी, वाराणसी, प्रयागराज, चित्रकूट, नासिक, हम्पी, रामेश्वरम कांचीपुरम, भद्राचलम में भगवान के मंदिरों में दर्शन करवाए जाएंगे।

यात्रा को 20 दिन का किया, यह सुविधाएं मिलेंगी
यात्रा को और अधिक सुगम बनाने के लिए इसकी अवधि को 18 दिन से बढ़ाकर 20 दिन का कर दिया गया है। पहले 18 दिन की यात्रा को लेकर भागा दौड़ी ज्यादा होनी थी। ऐसे में इसे बढ़ाकर 20 दिन किया गया है। इस पूर्णतया वातानुकूलित पर्यटक ट्रेन में एसी तृतीय श्रेणी के कोच भी रखे गए हैं। यात्रियों को उनकी बर्थ पर ही शाकाहारी भोजन उपलब्ध करवाया जाएगा।

ट्रेन में यात्रियों के मनोरंजन व यात्रा की जानकारी आदि प्रदान करने के लिए इन्फोटेनमेंट सिस्टम भी लगाया गया है। सुरक्षा के लिए सुरक्षा गार्ड एवं सीसीटीवी कैमरे भी प्रत्येक कोच में उपलब्ध रहेंगे। 20 दिन की यात्रा के लिए रु 73,500 रुपए प्रति व्यक्ति का शुल्क निर्धारित किया है। यात्रा की जानकारी व्हाट्सएप्प नंबर 8595930998, 9001094705 से भी ले सकते हैं।

खबरें और भी हैं...