लंपी जन जागरूकता गोष्ठी:जन जागरूकता गोष्ठी का आयोजन

देवगढ़6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

देवगढ़ ब्लॉक के ग्राम पंचायत सवादड़ी में लंपी बीमारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरपंच त्रिलोक सिंह की अध्यक्षता में कृषि पर्यवेक्षक अंजलि वैष्णव द्वारा लंपी जन जागरूकता गोष्ठी का आयोजन किया गया। कृषि पर्यवेक्षक अंजली वैष्णव ने पशुपालकों से अपील की है कि वे अपने पशुओं को बेसहारा नहीं छोड़े व रोगग्रस्त पशुओं के उचित इलाज के लिए पशुपालन विभाग से संपर्क करें।

कृषि विभाग राजसमंद उपनिदेशक कृषि विस्तार कैलाश चंद मेघवंशी द्वारा किसानों को पशु में लंपी रोग की पहचान तेज बुखार, आंख मुंह से स्त्राव, चमड़ी पर गांठ आदि के लक्षणों पर नजर रखने एवं रोग से बचाव के लिए पशु घर में नीम के पत्ते, कपूर, गूगल आदि का धुआं करने, पशु घर को 2 से 3 प्रतिशत सोडियम हाइपरक्लोराइड या लाल दावा के घोल का छिड़काव कर पशु गृह को भी स्वच्छ रखे। रोगी पशु को स्वस्थ्य पशु से अलग रखे।

मृत पशुओं को घसीट कर नहीं ले जाए बल्कि स्थानीय प्रशासन के सहयोग से गांव से दूर 1.5 मीटर गहरा गड्ढा खोदकर व चूना व नमक डालकर पशु को दफनाने की जानकारी दी। देवगढ़ कृषि अधिकारी कमलेश सैनी द्वारा नीम के पत्ते, तुलसी के पत्ते, पान के पत्ते, हल्दी, काली मिर्च, लौंग और गुड़ आदि सामग्री से आयुर्वेदिक व होम्योपैथिक दवाई घर पर बनाने के तरीके तथा किस प्रकार पशुओं को कितनी खुराक में देना है की जानकारी प्रदान की गई।

जन जागरूकता गोष्ठी में ग्राम पंचायत के जनप्रतिनिधि भरत सिंह, नाथू सिंह सहित महिला एवं पुरुष कृषकों द्वारा गोष्ठी में भाग लिया गया। भीम | कृषि विभाग ने पंचायत समिति भीम में ग्राम पंचायत अजीतगढ़, समेलिया, सारोठ में गोवंश में फैली बीमारी लंपी स्किन रोग के प्रबंधन के संबंध में जागरूकता कृषक गोष्ठियों हुई। सहायक कृषि अधिकारी भीम कमलेश यादव ने बताया कि कृषकों को रोग के बचाव एवं उपचार के बारे में जानकारी दी गई।

किसानों को रोग प्रबंध के संबंध में रोगी पशु को स्वस्थ पशुओं से अलग रखने एवं पशु आवास को स्वच्छ एवं साफ सुथरा रखने एवं आवास परिसर में 2-3 प्रतिशत सोडियम हाइपो क्लोराइड या लालदवा या फिनाइल के घोल का छिड़काव करें। पशु पालन विभाग से संबंधित पंचायत के पशुधन सहायक ने मृत पशुओं को वैज्ञानिक तरीके से डिस्पोजल के बारे में बताया एवं रोगी पशु की तुरंत सूचना पशुपालन विभाग को देने के लिए कहा। इस दौरान कृषि पर्यवेक्षक मीनाक्षी मुकेश, विक्रमसिंह आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...