लंपी से मृत गोवंश को खुले में छोड़ने पर आक्रोश:आमेट में खुले में पड़ी मरी हुई गायें; कलेक्टर के नाम दिया ज्ञापन

राजसमंद2 महीने पहले
लंपी से मृत गोवंश को खुले में छोड़ने पर आमेट में तहसीलदार को ज्ञापन सौंपते हुए।

आमेट नगर पालिका क्षेत्र में लंपी से मृत गोवंश को खुले में छोड़ने पर नेता प्रतिपक्ष सहित भाजपा पार्षद ने आक्रोश प्रकट करते हुए कलेक्टर नीलाभ सक्सेना के नाम आमेट तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा।

आमेट में लंपी बीमारी सहित अन्य बीमारी से मृत गोवंश को गाइडलाइन के अनुसार अंतिम संस्कार करने के बजाय लीकी रोड पर बनाए गए डंपिंग यार्ड में खुले पर छोडने के बाद अब मृत गोवंश की बदबू से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा रहा । मृत गोवंश की बदबू से पास के गांव में भी लोगो को परेशानी हो रही है जिस पर रोष प्रकट किया गया है।

मंगलवार को आम नागरिकों सहित नेता प्रतिपक्ष तथा भाजपा पार्षदों के द्वारा प्रदर्शन करते हुए तहसीलदार देवाराम को जिला कलेक्टर के नाम एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के दौरान नगर वासियों ने खुले में मृत पड़ी गोवंश के फोटो व विडियो भी बताए गए।

ज्ञापन में बताया कि पालिका प्रशासन की लापरवाही के चलते लंपी से मृत गोवंश को बिना दफनाए (दाह संस्कार) ऐसे ही लिकी रोड पर नगर पालिका द्वारा बनाए गए डंपिंग यार्ड में खुले में डाल देने से हिंदू भावनाओं को भी ठेस पहुंची है तथा यह पालिका द्वारा कर्मियों की घोर लापरवाही है। जिस पर जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए मृत गौ वंश को सम्मान पूर्वक अंतिम संस्कार किया जाए।

ज्ञापन के दौरान नेता प्रतिपक्ष रमन कंसारा, पार्षद मांगीलाल रेबारी, राधेश्याम खटीक, दिनेश सरनोत, दिनेश लक्षकार, कमलेश महाकाल, माधव सिंह पवार, देवीलाल जीनगर, दीपक गोठवाल, निकिल टेलर, कपिल सुथार, हिमत गुर्जर , मोनु शर्मा, लक्ष लोहार, सिद्धार्थ सेट, प्रकाश सुथार, टिंकु टेलर, खुशाल सेन, सोनु लोहार सहित नगरवासी मौजूद थे।

इस मामले को लेकर आमेट तहसीलदार देवाराम का कहना है कि नगर वासियों द्वारा जो ज्ञापन मिला व फोटो वीडियो देखने के बाद तुरंत नगर पालिका ईओ को लिखित रूप से इस बाबत संज्ञान लेने के लिए कहा गया। मैं खुद इस मामले को देख रहा हूं तथा जल्दी ही मृत गायों का अंतिम संस्कार करवा दिया जाएगा ।