राजसमंद शहर में 3 स्थानों पर रावण दहन:कांकरोली में 51 फीट, राजनगर व धोईंदा में 35 -35 फीट के रावण के पुतले

राजसमंद2 महीने पहले
कांकरोली में बालकृष्ण स्टेडियम में 51 फिट का रावण का पुतला।

विजय दशमी के अवसर पर आज राजसमंद नगर परिषद क्षेत्र में तीन स्थानों कांकरोली, राजनगर व धोईंदा में रावण के पुतलों का दहन कर दशहरा पर्व मनाया जा रहा है। जिसमें कांकरोली के बालकृष्ण स्टेडियम में 51 फिट का रावण का पुतला तैयार किया गया है।

जिसे तैयार करने के लिए बडी सादड़ी की टीम एक सप्ताह से काम कर रही है। टीम के सदस्य ने बताया कि रावण के पुतले बनाने का काम उन्होंने अपने अंकल से सीखा ओर 2006 से लगातार वो ये काम कर रहे हैं। इस बार रावण के पुतले में हर हिस्से में पटाखे सेट किए। जिसमें अधिकांश पटाखे रावण के उपरी हिस्से में सेट किए हैं। जिससे कि एकदम से रावण नीचे नहीं गिरे।

कांकरोली में दहन से पूर्व श्रीद्वारिकाधीश मंदिर से परंपरानुसार राम, लक्ष्मण, जानकी व हनुमान जी की सवारी रवाना होगी जो शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए बाल कृष्ण स्टेडियम पहुचेगी। जहां पर आतिशबाजी के साथ रावण के पुतले का दहन किया जाएगा।

वही राजनगर में 35 फिट ऊंचे रावण का पुतला बनाया गया है। जिससे यहां स्थानीय कलाकार मुरली भोई व टीम द्वारा तीन दिनों में तैयार किया गया। राजनगर के बनाए पुतले की छाती पर दहन से पहले अग्नि का चक्र चलेगा जो सुदर्शन चक्र अनुभूति कराएगा। उसके बाद दर्द के एहसास के रूप में मुंह से आग ज्वाला निकलेगी। उसके बाद आंखों से अंगारे पडे़ंगे। राजनगर के पुतले में साटन के कपडे का प्रयोग करते हुए रावण के कपड़े सिले गए जिसमें करीब 50 मीटर कपड़ा काम में आया है।

वही धोईंदा के हायर सेकेंडरी स्कूल के प्ले ग्राउंड में पहली बार रावण के पुतले का दहन किया जाएगा, यहां पर भी बडी सादड़ी के कलाकारों ने रावण का 35 फीट ऊंचा पुतला बनाया है। धोईदा में श्रीरामजी झांकी ग्राउंड में पहुंचेगी और पुतला दहन किया जाएगा।