फ्लैट का कब्जा नहीं देने का मामला:कब्जा नहीं सौंपने पर उपभोक्ता मंच ने राशि मय ब्याज चुकाने का आदेश दिया

राजसमंद15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयाेग ने एक बिल्डर के खिलाफ गुड़गांव में फ्लैट का कब्जा नहीं देने के मामले में फैसला सुनाया गया। फैसले में बताया कि राजसमंद के रेलमगरा निवासी परिवादी पवन सिंह राठौड़ ने गुड़गांव के नजदीक एक फ्लैट विपक्षी मैसर्स एवलाेन प्राेजेक्टस जीआरजे डिस्ट्रीब्यूटर एंड डवलपर्स प्रा. लि. की युनिट से बुक करवाया था। जाे टाॅवर नम्बर ए 16 में फ्लैट नम्बर 702 था। जिसका साइज 1250 वर्गफीट हाेकर कुल कीमत 38 लाख 25 हजार रुपए थी।

किंतु विपक्षी मैसर्स एवलाेन प्रोजेक्ट्स ने परिवादी पवनसिंह से तीन किश्तों में दस लाख 14 हजार 795 रुपए प्राप्त किए। लेकिन निर्माता कंपनी एवलाेन प्रोजेक्ट्स के द्वारा परिवादी काे फ्लैट का कब्जा नहीं दिया गया। निर्माण में देरी करने पर परिवादी ने जिला उपभाेक्ता विवाद प्रतितोष राजसमंद का दरवाजा खटखटाया।

जिस पर परिवादी की ओर से अधिवक्ता हर्ष टांक ने निर्माता कंपनी के विरुद्ध परिवाद प्रस्तुत करते हुए पैरवी की है एवं निर्माता बिल्डर एवलाेन प्राेजेक्ट के द्वारा अनुचित व्यापार व्यवहार व सेवा दाेषी का दाेषी पाते हुए जमाशुदा राशि पर मय ब्याज लाैटाने के आदेश पारित करते हुए उपभाेक्ता आयाेग ने मूल राशि 10 लाख 14 हजार 795 रुपए पर 18 प्रतिशत वार्षिक की दर से ब्याज दिनांक 14 सितम्बर 2014 से 12 सितम्बर 2022 तक 14 लाख 61 हजार 304 रुपये व पचास हजार रुपए मानसिक संताप व वकील मेहनताना के रूप में पांच हजार रुपये दिलाने का मैसर्स एवलाेन प्राेजेक्ट्स काे दाे माह में भुगतान करने का आदेश दिया।

खबरें और भी हैं...